झारखंड में ‌‌BJP का हल्ला बोल:कोविड के बाद पहली बार सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरी मुख्य विपक्षी पार्टी, रांची में सांसद, विधायक, मेयर समेत पार्टी के बड़े नेता कर रहे हैं प्रदर्शन

रांची9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
BJP राज्य भर में 267 जगहों पर प्रदर्शन कर रही है। रांची में मोरहाबीद मैदान के समक्ष बनाए जा रहे मानव श्रृंखला में राज्य के सभी बड़े नेता शामिल हैं. - Dainik Bhaskar
BJP राज्य भर में 267 जगहों पर प्रदर्शन कर रही है। रांची में मोरहाबीद मैदान के समक्ष बनाए जा रहे मानव श्रृंखला में राज्य के सभी बड़े नेता शामिल हैं.

झारखंड में सरकार गठन के19 महीने बाद अब मुख्य विपक्षी पार्टी सरकार की नीतियों के खिलाफ सड़क पर उतर गई है। रांची समेत राज्य के 267 स्थानों पर मानव श्रृंखला बना कर BJP प्रदर्शन कर रही है। रांची में पार्टी के सभी बड़े नेता मोरहाबादी स्थित बापू वाटिका के पास प्रदर्शन कर रहे हैं।

यहां रांची के सभी विधायक, सांसद, मेडयर, डिप्टी मेयर समेत अन्य बड़े नेता प्रदर्शन में शामिल हैं। इसमें पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश के साथ राष्ट्रीय प्रवक्ता सह राज्यसभा सांसद जफर इस्लाम भी शामिल हैं। प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकश ने कहा कि 19 महीने के सरकार में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गया है।

प्रदेश जंगल राज की ओर बढ़ रहा है। हत्या, दुष्कर्म, महिला उत्पीड़न, बढ़ता उग्रवाद, शोषण, आदिवासियों की नृशंश हत्या लगातार इजाफा हो रहा है जबकि विकास की शून्यता है।

19 महीने में बिजली के 19 खंभे भी नहीं गाड़ सकी सरकार
उन्होंने कहा की 19 महीने में कांग्रेस JMM की सरकार ने एक भी किलोमीटर सड़क निर्माण, बिजली के 19 खंभे, 19 ट्रांसफार्मर, 19 मीटर तार नहीं लगा पाई है। खनिज संपदा की लूट मची है। बालू घाटों पर सत्ताधारी दल के नेता अवैध वसूली, संथाल से स्टोन चिप्स अवैध तरीके से भारत से बांग्लादेश भेजा जा रहा है।

नियोजन नीति में तुष्टिकरण राजनीति की झलक
BJP प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हेमंत सरकार सामाजिक समरसता को तोड़ने पर उतारू है। तुष्टिकरण की राजनीति नहीं चलेगी, नियोजन नीति में देवभाषा संस्कृत, राष्ट्रभाषा हिन्दी, अंतरराष्ट्रीय भाषा इंग्लिश को हटाते हुए सिर्फ उर्दू को रखना दुःखद है। उन्होंने कहा कि सामान्य वर्ग का कोई बच्चा बाहर पढ़ेगा तो उसे इस नियोजन नीति का लाभ नहीं मिलेगा। कांग्रेस झामुमो ने संवैधानिक व्यवस्था को तोड़ने का कार्य किया है।