प्रशासन सख्त / अफवाह फैलाने पर झारखंड में अब तक 251 लोगों पर केस, लोहरदगा व साहेबगंज में कोई मामला नहीं

Case on 251 people in Jharkhand for spreading rumors, no case in Lohardaga and Sahebganj
X
Case on 251 people in Jharkhand for spreading rumors, no case in Lohardaga and Sahebganj

  • राज्य भर में लॉकडाउन नियमों के उल्लंघन के 1930 मामले दर्ज, 8767 लोग अभियुक्त बनाए गए
  • अफवाह फैलाने के सबसे अधिक मामले पलामू में, रांची दूसरे स्थान पर
  • लॉकडाउन नियमों के उल्लंघन में रांची के लोग सबसे आगे... 386 मामले दर्ज, 1222 लोगों पर हुई प्राथमिकी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:19 AM IST

रांची. राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण से जुड़ी अफवाह फैलाने के आरोप में अब तक कुल 162 मामले दर्ज किए गए हैं, जिनमें कुल 251 अभियुक्तों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है। इनमें आधे से भी कम 124 अभियुक्तों की गिरफ्तारी हुई है। जबकि अन्य की तलाश में पुलिस जुटी हुई है। सबसे अधिक 22 मामले पलामू में दर्ज किए गए हैं। इनमें 24 लोगों को अभियुक्त बनाया गया है, जिसमें से 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के दौरान लॉकडाउन से संबंधित नियमों के उल्लंघन के मामले में 21 मई तक कुल 1930 मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें कुल 8767 लोगों को अभियुक्त बनाया गया है, जिनके खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज की गई है। वहीं 3906 दोषियों को गिरफ्तार भी किया गया है। खास बात यह है कि पहले और दूसरे चरण के दौरान लोग तीसरे चरण की तुलना में ज्यादा संयमित रहे। तीसरे चरण में लोगों  ने नियमों का ज्यादा उल्लंघन किया।
रांची में अफवाह फैलाने पर चार लोग गिरफ्तार
राज्य के 24 में से दो जिलों में अफवाह फैलाने के एक भी मामले दर्ज नहीं किए गए हैं। इनमें लोहरदगा और साहेबगंज शामिल हैं। वहीं राजधानी रांची में अफवाह फैलाने के कुल 17 मामले दर्ज किए गए हैं जिनमें 18 अभियुक्तों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई। इनमें से चार अभियुक्तों को गिरफ्तार करने में पुलिस सफल रही है।
लॉकडाउन में नियम तोड़ने को लेकर हुई कार्रवाई

लॉकडाउन में नियम तोड़ने को लेकर हुई कार्रवाई
लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन से संबंधित धाराओं के तहत सबसे ज्यादा रांची में 386 मामले दर्ज किए गए हैं। इनमें 1222 अभियुक्तों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है, जबकि यहां 472 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। वहीं सबसे कम 8 मामले पाकुड़ में दर्ज किए गए। इनमें 18 लोगों को अभियुक्त बनाया गया जबकि पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया।
अभियुक्तों की संख्या सबसे ज्यादा जमशेदपुर में
लॉकडाउन के नियमों के उल्लंघन के मामले में सबसे ज्यादा 1775 लोगों के खिलाफ जमशेदपुर में प्राथमिकी दर्ज की गई। वहीं इनमें 1625 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया। यहां लॉकडाउन से संबंधित नियमों के उल्लंघन के 182 मामले दर्ज किए गए हैं।

सबसे ज्यादा गिरफ्तारी लॉकडाउन के तीसरे फेज में

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना