कोरोना अभी जिंदा है:71 दिन बाद रांची में एक दिन में 26 मरीज मिले, रांची में एक्टिव मरीजों की संख्या 98 हुई

रांची7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मरीजों की संख्या बढ़ते ही प्रशासन बाहर से आने वाले यात्रियों की जांच में सख्ती बढ़ा दिया है। एयरपोर्ट पर बड़ी संख्या में टीम की तैनाती की गई है। - Dainik Bhaskar
मरीजों की संख्या बढ़ते ही प्रशासन बाहर से आने वाले यात्रियों की जांच में सख्ती बढ़ा दिया है। एयरपोर्ट पर बड़ी संख्या में टीम की तैनाती की गई है।

दुर्गा पूजा के दौरान लापरवाही का असर अब एक बार फिर से दिखने लगा है। । शुक्रवार काे राज्य में 40 नए काेराेना संक्रमित मिले हैं। इनमें 26 अकेले रांची के हैं। रांची में 71 दिन के बाद इतनी बड़ी संख्या में मरीज मिले हैं।

दुर्गा पूजा के बाद सिर्फ एक सप्ताह में काेराेना के एक्टिव केस बढ़कर 98 हाे गए, जबकि 15 अक्टूबर काे जिले में 60 एक्टिव केस थे। दरअसल काेराेना का केस घटने के बाद लाेग बेपरवाह हाे गए हैं। केंद्र सरकार ने त्योहार से पहले ही चेताया था कि अगर भीड़ जुटी ताे काेराेना फिर फैल सकता है। इसे देखते हुए राज्य सरकार काे सतर्कता बरतने का आदेश दिया था। लेकिन न ताे प्रशासन सक्रिय हुआ और न ही लाेगाें पर इसका असर हुआ।

जांच आधी हुई, टेस्टिंग और ट्रैकिंग भी नहीं
पिछले तीन महीने में राज्य में काेराेना जांच की गति काफी धीमी हाे गई है। पहले रोजाना औसतन 50 हजार जांच होती थी। अब यह घटकर 30 हजार के आसपास हाे गई है। मरीज मिलने के बाद न तो उनकी ट्रैकिंग हो रही है और न उनके संपर्क में आने वालों की ट्रेसिंग।

ये लापरवाही पड़ी भारी
दुर्गा पूजा पंडाल में एक साथ 25 श्रद्धालुओं काे ही जाने की इजाजत थी। लेकिन बड़ी संख्या में लाेग उमड़े। 80 प्रतिशत लाेगाें के चेहरे पर मास्क भी नहीं था। केरल-बाहर से आने वाले लोगों की भी ठीक ढंग से जांच नहीं हुई।

आज से एयरपोर्ट पर बढ़ी सख्ती
मरीजों की संख्या बढ़ते ही प्रशासन बाहर से आने वाले यात्रियों की जांच में सख्ती बढ़ा दिया है। एयरपोर्ट पर बड़ी संख्या में टीम की तैनाती की गई है। ये यहां से निकलने वाले सभी लोगों की जांच कर रहे है। जिनके पास वैक्सीनेशन की दोनों सर्टिफिकेट नहीं है, उनका सैंपल सख्ती से लिया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...