छठ घाट पर पूजा की अनुमति:निगम मुहल्लों और कॉलोनियों में कृत्रिम छठ घाट तैयार कराएगा

रांची7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • घाटों पर अर्घ्य देने की अनुमति नहीं मिलने के आसार
  • नगर आयुक्त ने की अपील- घरों में दें अर्घ्य

दुर्गा पूजा के बाद लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। राज्य के काफी लोग दूसरे राज्यों में रोजगार की तलाश में जाते हैं। ये लोग दिवाली और छठ में घर आते हैं। बिहार, ओडिशा, बंगाल, केरल और महाराष्ट्र से आने वाली ट्रेनों से लगातार संक्रमित मिल रहे हैं। ऐसे में एक बार फिर संक्रमण की रफ्तार तेज होने की संभावना है। इसलिए, इस बार भी छठ घाटों पर अर्घ्य देने की अनुमति मिलने की संभावना काफी कम है।

अगले कुछ दिनों में स्पष्ट हो जाएगा कि राज्य सरकार छठ घाट पर पूजा की अनुमति देती है या नहीं। दूसरी ओर, रांची नगर निगम ने कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए अपने स्तर से छठ पूजा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने की तैयारी में जुट गया है।

नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने छठ व्रतियों से अपील करते हुए कहा है कि इस बार भी अपने घरों में ही जलकुंड बनाकर भगवान सूर्य को अर्घ्य दें। उन्होंने विभिन्न वार्डों में भी कृत्रिम छठ घाट बनाने का निर्देश दे दिया है, ताकि मुहल्ले व कॉलोनी के लोगों को पूजा के लिए छठ घाट नहीं जाना पड़े। इसके अलावा शहर को चार जोन में बांटकर तालाबों की सफाई कराने की जिम्मेदारी मल्टीपर्पज सुपरवाइजर, जोनल सुपरवाइजर और सिटी मैनेजरों को लगाया है।

खबरें और भी हैं...