संक्रमण का नया रिकॉर्ड:गंभीर स्थिति, राज्य में 8075 कोरोना पॉजिटिव मिले; रांची में 1771 नए मरीज

रांची6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
व्यवस्था का दर्द, सदर अस्पताल में चलकर आई 20 मिनट में हुई मौत - Dainik Bhaskar
व्यवस्था का दर्द, सदर अस्पताल में चलकर आई 20 मिनट में हुई मौत
  • इससे पहले 23 अप्रैल को 7595 मरीज
  • राहत- 24 घंटे में राज्य भर में कोरोना से 4362 लोगों ने जीत हासिल की

झारखंड में बुधवार को कोरोना संक्रमण के रिकॉर्ड 8075 नए मरीज मिले हैं। वहीं रांची में 1771 पॉजिटिव मिले हैं। पूर्वी सिंहभूम में 852, हजारीबाग में 582, लोहरदगा में 478 और पलामू में 367 नए मरीज मिले हैं। रामगढ़ में 301 और बोकारो में 275 नए मरीज मिले हैं। इसके साथ ही कोरोना से मरने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है।

बुधवार को 149 लोगों की मौत हुई। इनमें सबसे ज्यादा 46 मौत रांची में हुई। इसके पहले शनिवार को 110, रविवार को 103, सोमवार को 124, मंगलवार को 131 लोगों की मौत हुई थी। इधर, 24 घंटे के अंदर राज्य भर में कोरोना से 4362 लोगों ने जीत हासिल की। सबसे अधिक पूर्वी सिंहभूम में 882 और रांची में 748 लोगों ने कोरोना से जीत हासिल की।

नहीं मिला इलाज

ललगुटवा की रोशनी खलखो के लिए खुद अपने पैरों पर चलकर सदर अस्पताल के ओपीडी में इलाज के लिए आई। परिजन भी साथ थे। ओपीडी में डॉक्टर नहीं होने के कारण उसका इलाज नहीं हो पाया। 20 मिनट बाद ही रोशनी ने दम तोड़ दिया।

रिसालदार सीएचसी में ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड पर भर्ती शुरू, रात 10 बजे तक 80 कोरोना मरीजों को मिला बेड

डोरंडा स्थित रिसालदार बाबा सीएचसी में ऑक्सीजन सपोर्टेड 100 बेड के अस्पताल में मरीजों को भर्ती करने का कार्य बुधवार से शुरू हो गया। पहले ही दिन यहां रात 10 बजे तक 80 मरीजों को भर्ती किया गया। हालांकि, डीडीसी विशाल सागर ने शाम 7 बजे बताया था कि 47 मरीजों का इलाज शुरू हो गया है। मगर देर रात रिसालदार बाबा दरगाह कमेटी के महासचिव मो. फारुक ने बताया कि 80 मरीजों को एडमिट कर उनका इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि कमेटी ने अस्पताल में ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड उपलब्ध कराने की मांग की थी। जिसे पूरा किया गया।

खबरें और भी हैं...