संदेहास्पद मामला:बरियातू के रवींद्रनगर में बंद कमरे में फंदे से टंगा मिला मां और बेटी का शव

रांची3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक मां व बेटी (फाइल) - Dainik Bhaskar
मृतक मां व बेटी (फाइल)

रवींद्रनगर बरियातू में बुधवार को एक कमरे में फंदे से लटके 26 साल की मां रीता देवी और सालभर की उसकी बेटी नेहा कुमारी का शव मिला। मृतका के पति की सूचना पर पहुंची बरियातू पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़ा। रीता मूल रूप से सोनाहातू की रहनेवाली थी। वह एक माह से अपने पति हलधर महतो के साथ यहां रह रही थी।

हलधर रिम्स के एक डॉक्टर की गाड़ी चलाता है। हलधर ने पुलिस को बताया कि न ही उसकी पत्नी के साथ कोई लड़ाई-झगड़ा हुआ था और न ही कोई विवाद था। पत्नी ने ऐसा क्यों किया, उसे समझ में नहीं आ रहा है। बरियातू पुलिस प्रथम दृष्टया खुदकुशी का मामला मानकर जांच कर रही है। पुलिस ने रीता व नेहा के शव को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया है। साथ ही, रीता का मोबाइल फोन जब्त कर लिया है, ताकि मामले की जांच हो सके।

पड़ोसी बोले- दोपहर में बेटी संग बनाई थी वीडियो

हलधर ने बताया है कि वह सुबह 9 बजे ड्यूटी चला गया था। 11:55 बजे रीता ने उसे फोन करके पूछा कि वह खाने के लिए घर आएगा या नहीं। दोपहर करीब 12:55 बजे वह घर और खाने के बाद बेटी-पत्नी के साथ 1:30 बजे खेला। इधर, पड़ोसियों ने बताया कि पति-पत्नी ने बच्ची के साथ एक वीडियो भी बनाई थी। 2 बजे वह वापस ड्यूटी चला गया। शाम 6 बजे लौटा तो दरवाजा बंद था, खिड़की से झांका तो उसके होश उड़ गए। फिर उसने 100 नंबर पर डायल कर सूचना दी, तो पहले बरियातू थानेदार सपन कुमार महता पहुंचे, तुरंत बाद डीएसपी सदर पहुंचे।

अंतिम बार मां को किया था फोन

पुलिस खुदकुशी के कारणों का पता लगा रही है। रीता के मोबाइल की जांच से पता चला है कि उसने अंतिम कॉल अपनी मां को किया था, पर मां का फोन बंद था, इस कारण बात नहीं पाई थी।

पति-पत्नी के बीत कोई और तो नहीं

पुलिस जांच कर रही है कि दोनों में से किसी का संबंध किसी दूसरे व्यक्ति से तो नहीं था, जिसकी वजह से रीता देवी ने यह कदम उठाया। पुलिस दोनों के मोबाइल का कॉल डिटेल निकाल रही है।