पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मामला गंभीर:सदर अस्पताल के मेनिफोल्ड में खराबी, मरीजाें की मौत के मामले की जांच विभाग व डीसी करेंगे

रांची2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • स्वास्थ्य मंत्री बाेले- मामला गंभीर, भविष्य में ऐसी घटना न हाे, ध्यान रखा जाएगा

सदर अस्पताल में गुरुवार को मेनिफोल्ड में तकनीकी खराबी के कारण ऑक्सीजन सप्लाई बाधित हो गई थी। ऑक्सीजन का फ्लो अचानक कम होने के कारण आईसीयू में इलाजरत कोरोना के तीन से अधिक रोगियाें की मौत हो गई थी। यह काफी बड़ा मामला था, आईसीयू में जंबो सिलेंडर मौजूद थे, जिससे स्थिति पर काबू पाया जा सका, वर्ना बड़ी घटना घट सकती थी। मरीजाें की माैत का मामला शुक्रवार को तूल पकड़ा, ताे स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव को मामले की निष्पक्षता से जांच कराने का निर्देश दिया है।

विभाग के अलावा मामले की जांच रांची के उपायुक्त से भी कराई जाएगी। यदि इस घटना में कर्मियों की लापरवाही की पुष्टि होती है, तो उन्हें चिह्नित कर कार्रवाई की जाएगी। उन्हाेंने कहा कि मामले काे लेकर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से बातचीत हुई है। सीएम के निर्देश के आलोक में विभाग के प्रधान सचिव काे मामले की जांच कराने के लिए पत्र भेज दिया है। प्रभारी सिविल सर्जन डॉ. विनोद कुमार ने इस मामले में कहा कि यह अप्रिय घटना थी। गुरुवार की हुई घटना में आईसीयू में ऑक्सीजन सप्लाई के लिए लगे मेनिफोल्ड का वॉल्व अचानक उड़ गया। इस कारण ऑक्सीजन लिक हुआ। आधे घंटे में सप्लाई सुचारू कर दी गई थी।

सदर में मीडिया की इंट्री बंद, पास पर कर्मियों की इंट्री

सदर अस्पताल में बाहरी लोगों की इंट्री बंद कर दी गई है। कोविड अस्पताल में कार्यरत स्वास्थ्यकर्मियों को आईडी कार्ड जारी किए गए हैं। भर्ती मरीज के परिजनों के लिए पास की सुविधा दी गई है। अस्पताल के मेन गेट पर पुलिस बल तैनात किए गए हैं, जो स्वास्थ्य कर्मी और मरीज के परिजनों की आईडी व पास वेरिफिकेशन के बाद ही अंदर जाने देंगे। वहीं, गुरुवार को मेनिफोल्ड वाले घटना के बाद सख्ती बढ़ा दी गई है। शुक्रवार को असैनिक शल्य चिकित्सक सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी ने आदेश जारी कर कहा है कि मीडिया काे कोविड से संबंधित कोई भी जानकारी बिना उनकी अनुमति के नहीं देंगे। मीडिया को सदर जिला कोविड अस्पताल में प्रवेश से भी रोक लगा दी गई है। सेवानिवृत्त चिकित्सक डाॅ. बीएन पोद्दार को पीआरओ बनाया गया है, जो हर दिन दोपहर 3 से 4 बजे के बीच सूचना उपलब्ध कराएंगे।

खबरें और भी हैं...