पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

माही को धोनी बनाने वाले मेंटर नहीं रहे:देवल दा ने स्कूल मैच में ही धोनी का टैलेंट पहचान लिया था, उनके लिए सीनियर्स से बॉलिंग करवाते थे

रांची2 महीने पहलेलेखक: शंभू नाथ
  • कॉपी लिंक
एक कार्यक्रम के दौरान महेंद्र सिंह धोनी और उनके मेंटर देवल सहाय। -फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
एक कार्यक्रम के दौरान महेंद्र सिंह धोनी और उनके मेंटर देवल सहाय। -फाइल फोटो।
  • देवल दा ने 1997 में धोनी का टेलेंट पहचानकर उन्हें टीम का स्टाइपेंड प्लेयर बनाया था
  • देवल दा धोनी के लिए सीनियर प्लेयर्स से बॉलिंग कराते थे और उन्हें टर्फ पर खिलाते थे

टीम इंडिया के धुरंधर बेट्समैन महेंद्रसिंह धोनी को तराशने वाले देवल सहाय का मंगलवार को निधन हो गया। प्यार से उन्हें लोग देवल दा कहते थे। वे लंबे समय से बीमार थे। उन्होंने ही रांची में टर्फ क्रिकेट ग्राउंड बनवाया था।

देवल दा के बेहद करीबी रहे आदिल हुसैन बताते हैं कि देवल दा ने धोनी की प्रतिभा को स्कूल के मैच में ही पहचान लिया था। धोनी के लिए वे सीनियर प्लेयर्स से बॉलिंग कराते थे। उन्हें टर्फ पर खिलाते थे और बड़े टूर्नामेंट में भी साथ ले जाते थे।

एक कार्यक्रम में देवल सहाय (देवल दा) के साथ धोनी। -फाइल फोटो।
एक कार्यक्रम में देवल सहाय (देवल दा) के साथ धोनी। -फाइल फोटो।

जूनियर होने पर भी सीनियर्स के साथ कराते थे प्रैक्टिस

आदिल बताते हैं कि देवल दा ने शुरू में ही कह दिया था कि धोनी एक शानदार प्लेयर बनेगा। धोनी 1997 से 2003 तक आदिल की कप्तानी में ही खेले। देवल दा ने ही 1997 में धोनी को CCL से एक स्टाइपेंड प्लेयर के रूप में जोड़ा था। तब धोनी एक जूनियर खिलाड़ी हुआ करते थे। CCL में राज्य स्तर तक के खिलाड़ी थे। जूनियर होने के बावजूद वे सीनियर प्लेयर्स से धोनी को बॉलिंग कराते थे। उनसे टर्फ के मैदान पर प्रैक्टिस कराते थे। CCL की टीम के साथ धोनी को राष्ट्रीय स्तर के टूर्नामेंट में ले जाया करते थे।

देवल दा के कहने पर धोनी ने बदल ली थी टीम

देवल दा से जुड़ा एक किस्सा सुनाते हुए आदिल हुसैन कहते हैं कि उस समय रांची क्रिकेट क्लब के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हुआ था। इसी दौरान, धोनी ने सेल की टीम के साथ खेलने के लिए हामी भर दी। वे सेल की टीम के साथ रजिस्टर्ड भी हो गए। देवल दा को इस बात की जानकारी मिली। तब उन्होंने धोनी से कहा कि तुम्हें CCL की टीम से खेलना है। देवल दा के निर्देश पर धोनी बिना सोचे-समझे CCL के लिए मैदान में उतर गए। इसके लिए बाकी फॉर्मेलिटीज भी बाद में पूरी की गईं।

टूर के बीच में देवल दा के पास पहुंचे धोनी

आदिल बताते हैं कि 2007 में कोल इंडिया क्रिकेट का फाइनल मुकाबला मेकॉन ग्राउंड में होना था। उसी समय धोनी को टूर पर बाहर जाना था। वे रवाना होने ही वाले थे कि उन्हें पता चला कि देवल दा ने उन्हें मेकॉन ग्राउंड बुलाया है। तब अपना शेड्यूल एडजस्ट कर धोनी मेकॉन ग्राउंड पहुंचे। देवल दा से मिलने के बाद धोनी ने उन सभी पुराने खिलाड़ियों से भी मुलाकात की, जिनके साथ वे क्रिकेट खेला करते थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser