पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Due To The Return Of Laborers To Their Village, The Pace Of Mango Inflows For The Second Consecutive Year Slowed, Despite The Arrival Of The Season, The Price Was High.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना का असर फलों के राजा पर:मजदूरों के अपने गांव लौट जाने के कारण लगातार दूसरे साल आम के आवक की रफ्तार धीमी, सीजन आने के बावजूद कीमत ज्यादा

रांची10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले राजधानी की हरमू मंडी में रोजाना पहुंचते थे 6से 7 ट्रक
  • मगर अभी दो दिनों में दो ट्रक ही आ रहा, आंध्र प्रदेश व यूपी से आता है आमो

काेराेना संक्रमण के कारण लगातार यह दूसरी साल है जब आम के सीजन पर बुरा असर पड़ा है। करीब आधा सीजन गुजर गया है, मगर अबतक बाजार में आम कम नजर आ रहा है। हरमू मंडी में सीजन में रोजाना 6-7 ट्रक आम पहुंचते थे। लेकिन कोरोना के कारण एक-दो दिन में दो ट्रक ही आम रांची के मंडी में आ रहे हैं। रांची में सबसे ज्यादा आम आंध्र प्रदेश और उत्तर प्रदेश से आते हैं।

व्यापारियों के अनुसार कोरोना के कारण वहां से आम मंगाने में दिक्कत हो रही है। अधिकतर मजदूर अपने घर वापस लौट गए हैं। इस कारण ज्यादा मजदूरी देकर आम भेजा जा रहा है। इससे कीमत भी बढ़ गई है। रांची के बाजार में अभी गुलाब खास और बैगन पल्ली ही सबसे ज्यादा उपलब्ध हैं। गुलाब खास पहले इस समय 60 रुपए बिकता था, वहीं अभी इसकी कीमत 80 से 100 रुपए तक है।

मालदह और लंगड़ा के शौकीनों को करना होगा 15 दिनों का इंतजार

एक माह बाद मार्केट में आएगा दशहरी और चौसा आम

आम में सबसे ज्यादा लोग मालदह और लगड़ा पसंद करते हैं। यहां लोगों में यूपी के लंगड़ा के अलावा लोकल लंगड़ा की भी अच्छी डिमांड है। डेली मार्केट के दुकानदार मो. नैयर ने बताया कि 15 दिनों के बाद लंगड़ा आने की उम्मीद है। एक माह बाद चौसा व दशहरी की आवक शुरू होगी। हमारा प्रयास रहेगा कि लोगों को वाजिब कीमत पर आम मिले।

आम के भाव

  • 80 से 100 रुपए किलो गुलाब खास
  • 60 से 70 रुपए किलो बैगन पल्ली

रमजान व गर्मी से तरबूज की मांग अभी सबसे ज्यादा

रमजान के महीने में फलों की बिक्री विशेष रूप से बढ़ जाती है। खासकर इफ्तार के वक्त लगभग हर घर में फल रखा जाता है। इस बार रांची के बाजार में सबसे ज्यादा बिक्री तरबूज की हो रही है। पैदावार अच्छी होने के कारण 20 रुपए किलो अच्छी क्वालिटी का तरबूज बाजार में उपलब्ध है।

कोल्ड स्टोरेज का संतरा खत्म, माल्टा की हो रही बिक्री

कोल्ड स्टोरेज में रखा संतरा भी खत्म हो गया है। आम दिनों में 40-50 रुपए किलो बिकने वाला संतरा अगर दुकानदार के पास है तो उसकी कीमत 250 रुपए किलो है। दुकानदार अफरोज ने बताया कि संतरा का फसल अभी नहीं हुई है। फसल होने के बाद दाम घटेंगे। इन दिनों आस्ट्रेलियाई माल्टा की बिक्री जोरों पर है। बाजार में 130-140 रुपए बिक रहा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें