पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पर्यावरण समिति की बैठक:जिले को स्वच्छ बनाने पर जोर, सभी तरह के कचरों के निबटारे के लिए बनेगा जिलास्तरीय प्लान

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिला प्रशासन ने रांची को स्वच्छ और प्रदूषणमुक्त बनाने के लिए कई एजेंडों पर काम शुरू किया है। प्रदूषण दूर करने के लिए सभी विभागों से डाटा मिलने के बाद ठोस प्लान बनाकर आगे बढ़ा जाएगा। यह निर्णय गुरुवार को कलेक्ट्रेट में डीसी छवि रंजन की अध्यक्षता में हुई जिला पर्यावरण समिति की बैठक में लिया गया। डीसी ने कहा कि जिले में पर्यावरण के स्तर में सुधार लाने के लिए जिला पर्यावरण योजना तैयार करना होगा। उसके बाद चरणबद्ध तरीके से काम किया जाएगा।

इसमें वेस्ट मैनेजमेंट, सॉलिड वेस्ट, प्लास्टिक, बायोमेडिकल वेस्ट, हजार्ड वेस्ट, ई-वेस्ट, वाटर मैनेजमेंट, डोमेस्टिक वेस्ट, इंडस्ट्रियल वेस्ट, एयर क्वालिटी, माइनिंग व ध्वनि प्रदूषण आदि पर विशेष फोकस होगा। उन्होंने ने सभी संबंधित विभागों को अपना डाटा राज्य सरकार द्वारा निर्धारित फॉर्मेट में उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

बैठक में केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की योजना के अंतर्गत ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, प्लास्टिक कचरा प्रबंधन, निर्माण और विध्वंस अपशिष्ट प्रबंधन, जैव चिकित्सा अपशिष्ट प्रबंधन, खतरनाक अपशिष्ट प्रबंधन, ई-कचरा प्रबंधन सहित पानी की गुणवत्ता प्रबंधन, घरेलू सीवेज प्रबंधन, औद्योगिक अपशिष्ट जल प्रबंधन, वायु गुणवत्ता प्रबंधन, खनन गतिविधि प्रबंधन, ध्वनि प्रदूषण प्रबंधन योजना को सख्ती से लागू करने पर विचार-विमर्श कर किया गया। बैठक में सिटी एसपी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

डीसी ने विभागों से मांगा डेटा

सच्चाई : इलेक्ट्रिक वेस्ट का डाटा ही नहीं, कूड़ा निबटारे के लिए नहीं बना प्लांट

रांची जिले को प्रदूषण मुक्त करने के लिए जिला स्तरीय प्लान बनाने का निर्णय लिया गया है, लेकिन सच्चाई यह है कि सभी प्लान सिर्फ कागजों तक ही सीमित हैं। राज्य गठन के 20 वर्ष होने को हैं, लेकिन आज तक रांची में सॉलिड वेस्ट डिस्पोजल प्लांट तक नहीं बना है। नतीजा पूरे शहर का कूड़ा झिरी स्थित डंपिंग यार्ड में जमा होकर पहाड़ बन गया।

इलेक्ट्रिक वेस्ट का तो प्रशासन के पास डाटा ही नहीं है, क्योंकि कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल टीवी आदि के वेस्ट का डाटा कलेक्ट ही नहीं किया गया। बायो मेडिकल वेस्ट के लिए भी प्लांट नहीं बैठाया गया। मेडिकल वेस्ट खुले में फेंका जाता है।

कोविड-19 को हराना है

वैक्सीनेशन की तैयारी तेज, सभी डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मियों का डेटाबेस बनेगा

कोविड-19 का वैक्सीन अभी तैयार नहीं हुआ है, पर वैक्सीनेशन की तैयारी तेज कर दी गई है। इसको लेकर गुरुवार को डीसी छवि रंजन की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें सिविल सर्जन, हॉस्पिटल एसोसिएशन और आईएमए के प्रतिनिधियों को वैक्सीनेशन को लेकर हो रही तैयारी की जानकारी दी गई। डीसी ने उनसे कहा कि सभी डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों का डेटाबेस तैयार करें। इसके लिए केंद्र सरकार ने कोविड-19 वैक्सीनेशन बेनीफिशियरी मैनेजमेंट सिस्टम बनाया है। दिए गए लिंक से डेटा कलेक्शन टैंपलेट डाउनलोड कर डेटाबेस अपलोड करना है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें