कानून / झारखंड में पहली बार... जज के खिलाफ होगी एसीबी जांच, पेड़ काटने का आरोप; रिटायरमेंट से एक महीने पहले किया संस्पेड

For the first time in Jharkhand ... ACB investigation will be against the judge, the charge of cutting trees
X
For the first time in Jharkhand ... ACB investigation will be against the judge, the charge of cutting trees

  • भ्रष्टाचार के खिलाफ तेज हुई कार्रवाई...सीएम ने दिए तीन मामलाें की जांच के आदेश

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 07:31 AM IST

रांची. दुमका के तत्कालीन प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश ओमप्रकाश सिंह के खिलाफ एसीबी जांच हाेगी। उनके खिलाफ दुमका के नगर थाना में भारतीय वन अधिनियम 1927 और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज है। झारखंड हाईकाेर्ट के रजिस्ट्रार (विजिलेंस) के पत्र पर मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन ने जज के खिलाफ दर्ज मामले की जांच एसीबी काे साैंपने पर सहमति दी।

झारखंड में यह पहला मामला है, जब कि जिला और सत्र न्यायाधीश के खिलाफ एसीबी जांच के आदेश दिए गए हैं। ओमप्रकाश सिंह अप्रैल 2018 से अक्टूबर 2019 तक दुमका में पदस्थापित थे। उनपर अपने सरकारी आवास से सागवान और अन्य कीमती पेड़ कटवाने का आराेप था।

यह भी आराेप था कि पेड़ कटवाकर उन्हाेंने निजी उपयाेग के लिए लकड़ी रख ली। पेड़ कटवाने की सूचना वन विभाग काे भी नहीं दी। विजिलेंस काे अगस्त 2019 में यह शिकायत मिली। जांच में आराेप सही पाया गया। इसके बाद रिटायरमेंट से महज एक महीने पहले उन्हें सस्पेंड कर दिया गया। हाईकाेर्ट के रजिस्ट्रार बृजेश कुमार गाैतम की शिकायत पर उनके खिलाफ 17 सितंबर 2019 काे केस दर्ज किया गया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना