पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

CM के काफिले पर हमला मामला:DGP का अल्टीमेटम, कहा- ऐसी गुंडागर्दी नहीं चलने दूंगा, साजिशकर्ता नहीं समझ पा रहे कि कानून की ताकत क्या है

रांची4 महीने पहले
DGP ने कहा- गुंडागर्दी करने वालों के साथ उसी तरीके से पेश आया जाएगा। (फाइल)
  • सोमवार शाम को किशोरगंज चौक पर CM के काफिले में चल रही गाड़ियों पर पत्थरबाजी हुई थी

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के काफिले पर हमला मामले में झारखंड के डीजीपी एमवी राव ने कहा है कि ऐसी गुंडागर्दी नहीं चलने दूंगा। उन्होंने कहा कि सीएम के काफिले पर साजिश के तहत हमला किया गया है। हमले में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। कोई ताकत इन्हें नहीं बचा पाएगी। उन्होंने कहा कि ये मूर्ख लोग समझ नहीं पा रहे कि कानून की ताकत क्या है। DGP ने जैप के एक कार्यक्रम में डीजीपी ने ये बातें कही। उन्होंने कहा कि साजिशकर्ता अगर दोबारा कानून हाथ में लेने की कोशिश करेंगे तो उसी जगह पर हाथ-पैर तोड़ दिया जाएगा।

गुंडागर्दी करने वालों से उसी तरह से पेश आया जाएगा
DGP ने कहा कि गुंडागर्दी करने वाले इसे वार्निंग समझ लें। अब तक जितने भी वीडियो फुटेज सामने आए हैं, उनमें से असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर गिरफ्तारी की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। रोड पर षडयंत्र करना, गुंडागर्दी करने वालों के साथ उसी तरीके से पेश आया जाएगा। कानून को अपने हाथ का खिलौना समझने वाले से ऐसा पेश आएंगे कि वे जिंदगीभर याद रखेंगे।

सिर कटी लाश मामले में जांच जारी है
डीजीपी ने कहा कि ओरमांझी में लड़की की मिली लाश मामले में दुष्कर्म की अभी पुष्टि नहीं हुई है। अभी तक उसकी पहचान भी नहीं हो पाई है। अभी तक इस बात की आशंका है कि कहीं दूसरी जगह हत्या करके उसे वहां लाकर फेंक दिया गया है। पुलिस जांच कर रही है। बहुत जल्द इसका खुलासा होगा।

क्या है मामला
हरमू बाईपास रोड पर सोमवार शाम CM हेमंत सोरेन के काफिले पर उग्र भीड़ ने हमला कर दिया। घटना शाम करीब छह बजे की है। कुछ देर के लिए भीड़ बेकाबू थी और पुलिसकर्मियों पर भारी पड़ रही थी। उग्र भीड़ नारेबाजी करते हुए स्कॉट में शामिल पुलिसकर्मियों पर ही टूट पड़ी। इस दौरान स्कॉट कर रहे गोंदा के थानेदार नवल किशोर गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। भीड़ ओरमांझी में एक दिन पूर्व एक युवती की दुष्कर्म के बाद गला काटकर हत्या की घटना से आक्रोशित थी।

एमवी राव को बकोरिया कांड में तेजी लाने का श्रेय

एमवी राव की गिनती तेजतर्रार IPS में की जाती है। केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर सीआरपीएफ में रहने के बाद वर्ष 2017 में वह झारखंड लौटे थे। तब सरकार ने उनका तबादला सीआईडी में एडीजी के पद पर किया था। जिस वक्त उन्हें सीआईडी में पदस्थापित किया गया, उस वक्त सीआईडी में कई बड़े मामले जांच के लिये लंबित थे। उन्होंने सभी मामलों की जांच में तेजी लायी। जिसमें बकोरिया कांड भी शामिल था। बता दें कि 8 जून 2015 की रात सीआरपीएफ और पुलिस ने पलामू के सतबरवा थाना क्षेत्र के बकोरिया में कथित रूप से एक मुठभेड़ में एक नक्सली समेत 12 लोगों को मार गिराया। पुलिस ने दावा किया कि मारे गये सभी लोग नक्सली हैं। इस पर लगातार सवाल उठते रहे हैं कि मारे गए लोग नक्सली थे या नहीं।

झारखंड पुलिस में वीक ऑफ की शुरुआत की
एमवी राव को पिछले साल ही प्रभारी डीजीपी का पदभार दिया गया है। पदभार ग्रहण करते ही इन्होंने झारखंड पुलिस के लिविंग स्टैंडर्ड को बेहतर बनाने पर जोर दिया था। इन्होंने 1 जनवरी से थाने में कार्यरत पुलिसकर्मियों के लिए वीक ऑफ की शुरुआत कर दी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

और पढ़ें