गाइडलाइन का पालन:जेईई एडवांस में 90% से ज्यादा अटेंडेंस, मैथ्स टफ, केमिस्ट्री के सवाल थे सामान्य

रांची8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेंटर में जाने से पहले स्टूडेंट्स ने हाथों को सेनिटाइज किया, टेंपरेचर की भी जांच की गई। - Dainik Bhaskar
सेंटर में जाने से पहले स्टूडेंट्स ने हाथों को सेनिटाइज किया, टेंपरेचर की भी जांच की गई।
  • टाटीसिलवे और तुपुदाना में दो शिफ्ट में ली गई परीक्षा

जेईई एडवांस्ड की परीक्षा दो शिफ्ट में रांची के दो सेंटर्स आयन एसआरएस पार्क टाटीसिलवे और आयन डिजिटल जोन तुपुदाना में आयाेजित हुई। दोनों सेंटर्स में लगभग 90 प्रतिशत से ज्यादा कैंडिडेट की उपस्थिति रही। परीक्षा के दौरान कोविड-19 गाइडलाइन का पालन किया गया। एंट्री गेट पर स्टूडेंट्स को डिस्टेंस मेंटेन कर एक-एक कर एंट्री दी गई। सेनिटाइजेशन के बाद टेंपरेचर चेक किया गया।

क्लास रूम में एंट्री से पहले सभी स्टूडेंट्स को मास्क भी उपलब्ध कराया गया। स्टूडेंट्स ने बताया कि सभी सवाल सिलेबस से पूछे गए थे। पहली पाली की परीक्षा दूसरी पाली की अपेक्षा आसान थी। स्टूडेंट्स ने मैथ्स को टफ बताया। फिजिक्स के सवाल पहली पाली में सामान्य थे। दूसरी पाली में थोड़ा कठिन लगा।

कहा, केमिस्ट्री के सवाल ओवरऑल सामान्य थे। ब्रदर्स एकेडमी के डायरेक्टर पारस अग्रवाल ने कहा कि जेईई एडवांस परीक्षा के सवाल सिलेबस से पूछे गए थे। सभी टॉपिक को टच किया गया था। स्टूडेंट्स अच्छे अंक ला सकते हैं। डायरेक्टर न्यूटन ट्यूटोरियल के इमरान अली ने कहा कि मैथ्स का पहला पेपर आसान था। वहीं दूसरा पेपर थोड़ा कठिन रहा।

परीक्षा देने वाले स्टूडेंट्स ने कहा-
सेट 1 में सारे प्रश्न सिलेबस से आए थे। पर मैथ्स टफ, केमिस्ट्री व फिजिक्स का पेपर अच्छा था। सेट 2 में सवाल सिलेबस से थे। फिजिक्स के प्रश्न थोड़े टफ थे। - स्नेहांशु मुखर्जी, अनंतपुर रांची

सारे सवाल सिलेबस से ही थे। एग्जाम ठीक गया पर मैथ्स थोड़ा डिफिकल्ट था, जिससे परेशानी हुई। फिजिक्स थोड़ा मुश्किल, केमिस्ट्री मॉडरेट था।
- खुशबू कुमारी, रामगढ़

खबरें और भी हैं...