रांची 68% वैक्सिनेटेड:रांची में 21.3 लाख आबादी में 20.54 लाख डाेज लगा, पहला डोज 1458396 व दूसरा 596138 पूरा

रांचीएक महीने पहलेलेखक: अमन मिश्रा
  • कॉपी लिंक
रीना राय - Dainik Bhaskar
रीना राय
  • दोनों डोज वाले 27%, क्योंकि 1.22 लाख लोग सेकेंड डाेज लेने नहीं आए

देश भर में कोविड वैक्सिनेशन का आंकड़ा 100 करोड़ पहुंचने की खुशियां मनाई जा रही है। रांची में भी वैक्सिनेशन योग्य कुल आबादी 2130935 है। टोटल डोज की बात करें तो यहां भी 20 लाख 54 हजार 534 लोगों को टीका लगाया जा चुका है। हालांकि ये सिर्फ टोटल डोज है।

पहले डोज की बात करें तो 1458396 (वैक्सिनेशन योग्य कुल आबादी का 68.25%) और दूसरा डोज 596138 (27.65%) लोगों को लगाया जा चुका है। इसका सारा श्रेय अस्पताल की स्टाफ नर्सों को जाता है, जिनकी बदौलत यह संभव हो सका है।

भास्कर ने खुशी के इस पल में उन्हें शामिल किया है, जिन्होंने पहली बार कंपकपाती हाथों से राजधानी में पहला डोज लगाया था। सदर अस्पताल की स्टाफ नर्स रीना राय ने अस्पताल की सफाईकर्मी मरियम गुड़िया को पहला टीका लगाया था। बातचीत के क्रम में सिस्टर रीना बताती है कि पहले दिन 99% डर भरा था, क्योंकि किसी को पता नहीं था वैक्सीन का किस पर क्या असर होगा।

यदि टीका लेने के बाद किसी की स्थिति बिगड़ती तो खुद को हमेशा दोषी मानती। रीना ने कहा कि मरियम को डोज देने के बाद उसे ऑब्जर्वेशन में रखा गया तो ईश्वर से दुआ कर रही थी कि उसे कुछ न हो। एक घंटे बाद मरियम ठीक-ठाक अपने काम में लग गई। फिर अकेले पहले दिन 80 से ज्यादा लोगों को वैक्सीनेट किया।

टीकाकरण में हम पीछे

जिले में दोनों डोज अब तक 27 प्रतिशत से ज्यादा आबादी को लग चुकी, लेकिन सेकेंड डाेज का आंकड़ा 5.74 प्रतिशत और बढ़ सकता था, पर समय पूरा होने के बाद भी 1,22,313 लोगोें ने नहीं लिया टीका।

अकेले एक लाख से ज्यादा लोगों को कोविड का टीका लगाने वाली एकलौती नर्स हैं रीना राय

सदर अस्पताल की नर्स रीना राय इकलौती ऐसी नर्स हैं, जिन्होंने जिले के एक लाख लोगों को अकेले वैक्सीनेट किया है। रीना ने बताया कि शुरुआत में जब तक डोज कम थे और सरकार द्वारा श्रेणीवार टीका लगाया जा रहा था, तब सदर अस्पताल में अकेले टीका लगाती थी। बताया कि 16 जनवरी से अब तक 1 लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगाने का आंकड़ा पार कर चुकी हूं। 16 जनवरी से टीकाकरण शुरू हुआ। रीना ने 18 जनवरी को पहला डोज लिया।

खबरें और भी हैं...