भास्कर एनालिसिस:रांची में कोराेना का पीक 15 जनवरी को ही गुजर गया, 7 फरवरी तक एक्टिव केस 8876 से घटकर हो जाएंगे 600

रांची4 महीने पहलेलेखक: अमन मिश्रा
  • कॉपी लिंक
  • पिछले 9 दिनों में राजधानी में मिले 6153 पॉजिटिव केस, ठीक हुए इससे 159% ज्यादा 9777 लोग, 15 जनवरी को रिकवरी रेट 103% था, 23 को 510 % हुआ
  • एक्सपर्ट- अब संक्रमण बढ़ेगा नहीं...15 फरवरी तक जिले में हर दिन मिलनेवाले केस 15-20 तक सिमट जाएंगे

कोरोना संक्रमण अब सिमट रहा है। झारखंड में सबसे पहले रांची में ही संक्रमण के मामले बढ़ने शुरू हुए। अब उतनी ही तेजी से केस कम होने लगे हैं। दैनिक भास्कर ने एक्सपर्ट डॉक्टर से कोरोना के डाउनफॉल का ग्राफ तैयार कराया। रिम्स के कोविड टास्क फोर्स के सदस्य डॉ. देवेश कुमार ने बताया कि 7 फरवरी तक एक्टिव केस 8876 से घटकर 600 से 700 तक पहुंच जाएंगे।

15 फरवरी तक ये 300 के नीचे आ सकते हैं। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले नौ दिनों में राजधानी में 6153 नए संक्रमित मिले हैं, जबकि ठीक होने वालों की संख्या नए पॉजिटिव से करीब 159% ज्यादा यानी 9777 है। डॉ. देवेश ने कहा कि कोरोना का पीक रांची में भी 15-16 जनवरी को आया और गुजर चुका है।

  • ये एनालिसिस आईसीएमआर की रिकवरी गाइडलाइन के अनुसार किया गया है। आईसीएमआर का निर्देश है, जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं हैं और वे होम आइसोलेशन में हैं, तो उन्हें 7 दिन के बाद निगेटिव मान लिया जाए। हमने जो एनालिसिस किया है, उसके अनुसार वैसे संक्रमित जो 17 जनवरी को पॉजिटिव हुए होंगे, वे 25 को रिकवर हो जाएंगे।
  • इस बार गंभीरता नहीं होने से मौत का आंकड़ा नहीं बढ़ा। इस लहर में 23 दिसंबर से 23 जनवरी तक करीब 23807 लोग संक्रमण की चपेट में आए, जबकि मौत की बात करें, तो इनकी संख्या 25 के करीब रही। ओवरऑल थर्ड वेव में मृत्यु दर की बात करें, तो करीब 0.10% रही। दूसरी लहर में यह 2% के करीब थी।

एक्सपर्ट ओपिनियन, डॉ. प्रदीप भट्‌टाचार्य, हेड, क्रिटिकल केयर, रिम्स

15 फरवरी कोरोना के खत्म होने के लिए काफी
तीसरी लहर अब डाउनफॉल की ओर है। अच्छी रिकवरी इसके संकेत हैं। पहले 12000 जांच में 1000 से ज्यादा केस मिल रहे थे, अब उतनी ही जांच में 200 के करीब केस मिल रहे हैं। यदि यहीं ट्रेंड बरकरार रहा, तो 15 फरवरी कोरोना की समाप्ति के लिए काफी होगा।​​​​​​​

खबरें और भी हैं...