पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Instead Of Carrying The Body On The Vehicle, The Police Loaded It On The Stretcher, Tied It Behind The Jeep And Took Away The Police Station.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चरमराती व्यवस्था:वाहन पर शव ले जाने की बजाय पुलिस ने स्ट्रेचर पर लादा, जीप के पीछे बांधकर खींचते ले गई थाना

रामगढ़2 महीने पहले
  • रामगढ़ में सड़क हादसे में सीसीएल कर्मी की माैत, नाइट ड्यूटी से लाैट रहे थे
  • पुलिस अपनी गाड़ी से घटनास्थल पर पहुंची। एंबुलेंस के लिए मांडू सरकारी अस्पताल गई

यह है स्वास्थ्य और पुलिस की चरमराती व्यवस्था की एक झलक... यहां अस्पतालों में एंबुलेंस और थाने में गाड़ियां हाेते हुए भी शव ले जाने के लिए वाहन नहीं मिलते। रामगढ़ के मांडू में नाइट ड्यूटी से घर लाैट रहे सीसीएल कर्मी गिद्दी के रामेश्वर राम (55) की सड़क हादसे में माैत हाे गई। वह तापिन कोलियरी में सुरक्षाकर्मी थे। पुलिस अपनी गाड़ी से घटनास्थल पर पहुंची। एंबुलेंस के लिए मांडू सरकारी अस्पताल गई। नहीं मिली ताे अस्पताल से ट्राॅली-स्ट्रेचर लेकर घटनास्थल पहुंची। शव काे स्ट्रेचर पर लादा और जीप के पीछे बांधकर खींचते हुए आधा किमी दूर मांडू थाना ले गई।

मांडू थानेदार शशि प्रकाश के अनुसार, प्रभारी चिकित्सक काे एंबुलेंस के लिए फोन करते रहे, पर उन्हाेंने फाेन नहीं उठाया। वहीं, प्रभारी चिकित्सक डाॅ. अशोक राम का कहना है कि पुलिस ने फाेन नहीं किया, एंबुलेंस मांगते ताे हर हाल में देतेे। घटना मंगलवार देर रात 12.30 बजे की है। पुलिस के अनुसार, नाइट ड्यूटी पूरी करने के बाद रामेश्वर राम बाइक सेे साथी कर्मचारी के साथ लौट रहे थे। राजकीय मध्य विद्यालय मांडू के पास ट्रक ने उन्हें कुचल दिया। साथी कर्मचारी की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची।

पुलिस का दावा

एंबुलेंस के लिए फाेन करते रहे पर प्रभारी डाॅक्टर ने नहीं उठाया

डाॅक्टर बाेेले

पुलिस ने फाेन नहीं किया, एंबुलेंस मांगते ताे जरूर उपलब्ध कराते

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने व्यक्तिगत रिश्तों को मजबूत करने को ज्यादा महत्व देंगे। साथ ही, अपने व्यक्तित्व और व्यवहार में कुछ परिवर्तन लाने के लिए समाजसेवी संस्थाओं से जुड़ना और सेवा कार्य करना बहुत ही उचित निर्ण...

    और पढ़ें