14 दिन बाद भी CM के प्रतिनिधि पर FIR नहीं:‌BJP का आरोप- संवैधानिक संस्थाओं का अपमान कर रही सोरेन सरकार, थानेदार ने कहा-कागज नहीं मिला

रांची10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
BJP प्रदेश मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में बाबूलाल मरांडी ने देवघर DC पर तुरंत कार्रवाई की मांग की। - Dainik Bhaskar
BJP प्रदेश मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में बाबूलाल मरांडी ने देवघर DC पर तुरंत कार्रवाई की मांग की।

BJP ने हेमंत सोरेन सरकार पर संवैधानिक संस्थाओं के अपमान करने का आरोप लगाया है। पार्टी के विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने कहा है कि कोर्ट के आदेश के 14 दिन बाद भी CM के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा और DSP प्रमोद मिश्रा पर SC-ST थाने में केस दर्ज नहीं किया गया है। वहीं दूसरी तरफ चुनाव आयोग के आदेश के बाद भी देवघर DC को उनके पद से नहीं हटाया गया है।

वहीं FIR दर्ज नहीं होने के मामले में जब दैनिक भास्कर ने रांची के SC-ST थाना प्रभारी से सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि अभी तक केस दर्ज नहीं किया गया है। उन्होंने बताया कि अभी तक कोर्ट से कागज उन्हें नहीं मिला है। कागज मिलते ही FIR दर्ज कर लिया जाएगा।

26 नवंबर को विशेष अदालत ने सुनाया था फैसला
SC-ST की अदालत के विशेष न्यायाधीश मनीष रंजन की अyदालत ने साहिबगंज की महिला थानेदार रूपा तिर्की की मौत के बाद उनका ऑडियो वायरल करने के मामले में JMM नेता सहा CM के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा और साहिबगंज के DSP प्रमोद कुमार मिश्रा के खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश दिया है।

आदिवासियों को उपेक्षित और अपमानित कर रही सरकार
बाबूलाल मरांडी ने कहा कि आदिवासी वर्ग ने बेहद उम्मीद से राज्य में हेमंत सोरेन का सरकार बनवाई थी। लेकिन ये सरकार राज्य के आदिवासियों को उपेक्षित और अपमानित कर रही है। सरकार ने पहले रुपा तिर्की की CBI मौत से इंकार की। बाद इस मृतक आदिवासी बच्ची का ऑडिय वायर कर, उनके बारे में अपशब्द का इस्तेमाल कर अपमानित करने वालों के खिलाफ अब सरकार कार्रवाई भी नहीं कर रही है।