हेल्थ सेक्रेट्री का आदेश:झारखंड के प्राइवेट हॉस्पिटल में अब 50% बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व, सभी DC इसे तुरंत लागू करें

रांची9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हेल्थ सेक्रेटरी ने जारी किया निर्देश। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
हेल्थ सेक्रेटरी ने जारी किया निर्देश। (फाइल फोटो)

झारखंड के सभी प्राइवेट हॉस्पिटल में अब 50 फीसदी बेड कोरोना के मरीजों के लिए आरक्षित होंगे। राज्य में तेजी से बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने इसका निर्णय लिया है। हेल्थ सेक्रेटरी केके सोन ने सोमवार को इस संबंध में सभी DC को निर्देश जारी कर दिया है।

हेल्थ सेक्रेटरी ने अपने निर्देश में कहा कि राज्य में लगातार मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इसे ध्यान में रखते हुए सभी प्राइवेट हॉस्पिटल के कुल बेड का 50 फीसदी कोविड के लिए आरक्षित रखने की जरूरत है। इसके साथ ही उन्होंने सभी प्राइवेट हॉस्पिटल को कोविड के मरीजों के इलाज का प्राथमिकता देने का निर्देश दिया है। हेल्थ सेक्रेटरी ने सभी DC से तुरंत बैठक कर इसे लागू करने का आदेश दिया है।

CO लेवल के अधिकारी प्राइवेट हॉस्पिटल पर रख रहे नजर सकें।

रांची के इन हॉस्पिटल में हो रहा है इलाज
मेडिका, अंजुमन इस्लामिया हॉस्पिटल, मेदांता अस्पताल, आलम नर्सिंग होम, सैमफोर्ड हॉस्पिटल, हेल्थ प्वाइंट, राज अस्पताल, गुरुनानक अस्पताल, ऑर्किड हॉस्पिटल, सेवा सदन, सेंटेविटा, पल्स, रानी हॉस्पिटल, मां रामप्यारी हॉस्पिटल, रिंची ट्रस्ट अस्पताल, सेवेंथ पाम हॉस्पिटल, एसक्लेपियस हॉस्पिटल, पारस अस्पताल, देवकल हॉस्पिटल, गुलमोहर हॉस्पिटल आदि।