पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

झारखंड में एंट्री के साथ ही करानी होगी कोरोना जांच:राज्य के सभी रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व एयरपोर्ट पर स्थायी जांच बूथ बनेंगे, 24 घंटे जांच की होगी व्यवस्था

रांची4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जांच के लिए 8-8 घंटे की शिफ्ट में जांच टीमों को प्रतिनियुक्त करते हुए सभी आगंतुक यात्री की कोविड जांच सुनिश्चित की जाएगी। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
जांच के लिए 8-8 घंटे की शिफ्ट में जांच टीमों को प्रतिनियुक्त करते हुए सभी आगंतुक यात्री की कोविड जांच सुनिश्चित की जाएगी। (फाइल फोटो)

झारखंड सरकार राज्य में कोरोना की तीसरी लहर को रोकने के लिए हर संभव कोशिश में जुट गई है। इसी के मद्देनजर अब झारखंड में एंट्री करने वाले सभी व्यक्तियों की कोरोना जांच की जाएगी। इसके लिए राज्य के सभी रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व एयरपोर्ट पर कोरोना की जांच के लिए स्थायी रैपिड एंटीजन टेस्ट (RAT) जांच बूथ बनाए जाएंगे।

यहां सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे जांच की व्यवस्था की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह ने इस बाबत राज्य के सभी DC को निर्देश जारी किया है। अपर मुख्य सचिव ने कहा है कि जितनी जल्दी हो सके यह व्यवस्था शुरू कर दें। किसी भी सूरत में यह खानापूर्ति नहीं होनी चाहिए। गंभीरता के साथ यहां प्रवेश करने वाले लोगों की जांच करें।

DC को हिदायद पांच सूत्री एजेंडे में ट्रेस और टेस्ट अहम

अपर मुख्य सचिव ने कहा है कि कोविड की दूसरी लहर की रोकथाम बचाव तथा समुचित नियंत्रण के लिए कोविड समुचित व्यवहार का अनुपालन, ट्रैक, टेस्ट, आइसोलेट, ट्रीटमेंट और वैक्सीनेशन के पांच सूत्री एजेंडे के साथ काम करने की जरूरत है। कोविड की सतत व सघन जांच के माध्यम से संभावित तीसरी लहर पर नियंत्रण संभव है।

टेस्ट टीम के सहयोग के लिए पुलिस व दंडाधिकारी की होगी तैनाती

जहां 24*7 मॉडल पर लगातार जांच के लिए 8-8 घंटे की शिफ्ट में जांच टीमों को प्रतिनियुक्त करते हुए सभी आगंतुक यात्री की कोविड जांच सुनिश्चित की जाएगी। सैंपल कलेक्शन टीम को पूर्ण सहयोग के लिए पुलिस बल एवं दंडाधिकारी की भी प्रतिनियुक्ति की जाएगी। इससे पूर्व रांची, हटिया, धनबाद, बोकारो, जमशेदपुर व चक्रधरपुर रेलवे स्टेशनों पर जांच की व्यवस्था की गयी थी।

खबरें और भी हैं...