पूर्व CM मरांडी के सलाहकार UP से गिरफ्तार:27 दिन से फरार थे सुनील तिवारी, अरेस्ट होते ही बढ़ा BP, सीने में दर्द की शिकायत के बाद PGI लखनऊ में एडमिट

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शोषण का केस दर्ज होने के बाद पिछले 27 दिनों से सुनील तिवारी फरार थे। - Dainik Bhaskar
शोषण का केस दर्ज होने के बाद पिछले 27 दिनों से सुनील तिवारी फरार थे।

झारखंड के पूर्व CM बाबूलाल मरांडी के सलाहकार सुनील तिवारी को गिरफ्तार कर लिया गया है। रेप के आरोप में वह पिछले 27 दिनों से फरार थे। रविवार को रांची पुलिस की स्पेशल टीम ने उन्हें उत्तर प्रदेश के इटावा से गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तारी के तुरंत बाद सुनील तिवारी की तबीयत बिगड़ गई है। उन्हें लखनऊ के PGI हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। BP बढ़ने के साथ उन्होंने सीने में दर्द की शिकायत की है। प्राथमिक इलाज के बाद उन्हें इटावा से लखनऊ लाया गया। तबीयत में सुधार होते ही उन्हें UP से रांची लाया जाएगा। यहां अरगोड़ा थाने में उनसे पूछताछ की जाएगी।

SSP ने तीन स्पेशल टीमों का किया था गठन

सुनील तिवारी के खिलाफ 16 अगस्त को अरगोड़ा थाने में दुष्कर्म, छेड़छाड़ और एसटी-एससी एक्ट के तहत FIR दर्ज कराई गई थी। इनकी गिरफ्तारी के लिए SSP एसके ने 3 स्पेशल टीम का गठन किया था। इन्हीं में से एक टीम को इसकी सूचना मिली थी कि वह UP के इटावा के एक होटल में ठहरे हैं। उन्हें होटल से ही गिरफ्तार किया गया है।

अगरोड़ा थाने में शोषण के साथ बाल श्रम का भी दर्ज है केस

अरगोड़ा थाना में सुनील तिवारी के खिलाफ दुष्कर्म के अलावा बाल श्रम से जुड़े मामले में भी केस दर्ज कराया गया था। इन मामलों को लेकर सुनील तिवारी ने कोर्ट में एक अग्रिम जमानत याचिका भी दायर की थी। हालांकि, इसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। कोर्ट के सामने पीड़िता ने 164 का बयान भी दर्ज करा दिया था। इस बयान के आधार पर कोर्ट की तरफ से सुनील तिवारी के खिलाफ वारंट जारी कर दिया गया था। हालांकि, उन्होंने हाईकोर्ट में भी अग्रिम जमानत की याचिका दायर की थी।

खबरें और भी हैं...