• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • JMM Said Fight The Rajya Sabha Elections Separately But Give Support, Congress Will Have Only One Candidate For The Alliance, We Should Get A Chance

भास्कर इनसाइट:झामुमो ने कहा-राज्यसभा चुनाव अलग-अलग लड़ें पर समर्थन दें, कांग्रेस बोली-गठबंधन का एक ही प्रत्याशी होगा, हमें मौका मिले

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झारखंड में राज्यसभा की दो सीटों के लिए मंगलवार से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। लेकिन अब तक किसी पार्टी ने पत्ते नहीं खोले हैं। झामुमो-कांग्रेस में यह तय नहीं है कि किसका उम्मीदवार होगा। झामुमो का कहना है कि अलग-अलग लड़ें, पर एक-दूसरे को समर्थन दें।

लेकिन कांग्रेस ने साफ कर दिया है कि गठबंधन की ओर से एक ही प्रत्याशी होगा और इस बार हमें मोका मिलना चाहिए। कांग्रेस ने देश की राजनीतिक स्थिति का हवाला देते हुए कांग्रेस का उम्मीदवार बनाने का प्रस्ताव रखा है।

साथ ही उम्मीदवारों की सूची भी आलाकमान को भेज दी है। इसमें कई बार मंत्री रहे सुबोधकांत का नाम सबसे ऊपर है। दूसरे नंबर पर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार का नाम है। हालांकि सबकुछ झामुमो के फैसले पर निर्भर है।

इसी बीच प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडेय ने हेमंत सोरेन को सोनिया गांधी से मिलने का न्योता दिया है। उस संभावित बैठक में ही आखिरी फैसला होगा। वहीं भाजपा 29 मई को अपने प्रत्याशी के नाम की घोषणा कर सकती है।

विधानसभा का अंकगणित

कुल 80 विधायक, 1 सीट पर जीत के लिए चाहिए 27 वोट

झामुमो: 1 सीट जीतने के लिए 27 वोट की जरूरत। झामुमो के पास कुल 30 विधायक हैं।
भाजपा: कुल 26 विधायक हैं। आजसू के दो विधायकों का समर्थन संभव है।
कांग्रेस: कुल 17 विधायक हैं। झामुमो के शेष तीन वोट देता है तो भी 20 होंगे।

किस पार्टी से कौन-कौन हैं दावेदार
कांग्रेस : सुबोधकांत सहाय का नाम सबसे ऊपर: कांग्रेस ने आलाकमान को जो सूची भेजी है, उसमें सुबोधकांत सहाय पहले और डॉ. अजय कुमार दूसरे नंबर पर हैं। सुबोधकांत को राष्ट्रीय राजनीति के लिए सुयोग्य उम्मीदवार माना जाता है तो डॉ. अजय कुमार राहुल गांधी की पसंद हैं। लेकिन नकारात्मक पक्ष है कि डॉ. अजय प्रदेश अध्यक्ष रहते हुए इस्तीफा देकर आप में चले गए थे। 2020 में फिर कांग्रेस में लौटे। तीसरे नंबर पर गौरव बल्लभ और चौथे नंबर पर प्रणब झा का नाम है।

झामुमो ;पार्टी की पसंद सुप्रियो भट्‌टाचार्य
अभी यह तय नहीं हुआ है कि अपना प्रत्याशी देगा या फिर कांग्रेस को समर्थन देगा। अगर अपना प्रत्याशी चुनाव मैदान में उतारता है तो झामुमो की ओर से केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्‌टाचार्य का नाम सबसे ऊपर है।

भाजपा रघुवर सबसे प्रबल दावेदार
पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवर दास का नाम सबसे ऊपर है। लेकिन 26 से 28 मई तक हजारीबाग में प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में नाम तय होने हैं। इसके बाद चार नाम केंद्र को भेजे जाएंगे। वहां तय होगा।

सिब्बल के झामुमाे से राज्यसभा जाने की अटकलाें पर विराम, सपा के समर्थन से जाएंगे
कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। इसके साथ ही उन्होंने बुधवार को समाजवादी पार्टी के समर्थन से यूपी से राज्यसभा के लिए निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर नामांकन कर दिया।

सिब्बल ने बताया कि उन्हाेंने 16 मई को ही कांग्रेस अध्यक्ष को इस्तीफा भेज दिया था। इसके साथ ही सिब्बल के झामुमाे से राज्यसभा जाने की अटकलाें पर विराम लग गया है।