पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रांची में चक्का जाम:कृषि कानून के खिलाफ विपक्ष का प्रदर्शन, ढाई घंटे तक रांची में प्रवेश पर लगी रही पाबंदी; वाहनों की लगी रही लंबी कतार

रांचीएक महीने पहले
चक्का जाम समर्थकों ने करीब ढाई घंटे तक रांची के बूटी मोड़ की सड़क को पूरी तरह से बाधित कर दिया।

कृषि कानून के विरोध में शनिवार को रांची के बूटी मोड़ और कांटीटांड़ में वाम मोर्चा के विभिन्न संगठन, कांग्रेस, जेएमएम, आरजेडी के कार्यकर्ता ने चक्का जाम कर रास्ता रोक दिया। इस दौरान कृषि मंत्री बादल पत्रलेख भी मौजूद रहे। करीब ढाई घंटे तक रांची से बाहर निकलने व अंदर आने पर पाबंदी लगी रही। इससे वाहनों की लंबी कतार लग गई। चक्का जाम समर्थक संयुक्त किसान मोर्चा के देशव्यापी रास्ता रोको कार्यक्रम को अपना समर्थन दिया। इस सड़क जाम से रांची, रामगढ़, हजारीबाग, बोकारो का यातायात पूरी तरह ठप हो गई।

बूटी मोड़ पर जाम में फंसी गाड़ियां।
बूटी मोड़ पर जाम में फंसी गाड़ियां।

जाम में फंसे ट्रक ड्राइवरों को आंदोलनकारियों ने खाना भी खिलाया

वहीं, इस जाम की वजह से वाहनों की लंबी कतार लग गई। करीब 4 KM दूर तक जाम लग गया। हालांकि इस दौरान एंबुलेंस को आगे निकलने के लिए जगह दी गई। पर जाम होने की वजह से ड्राइवर को एंबुलेंस को आगे निकालने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। शनिवार को राज्य के अलग-अलग हिस्सों में विरोध प्रदर्शन किया गया। इधर, रांची स्थित NH-33 लोवाडीह दुर्गा सोरेन चौक को जाम करने से सिल्ली और पुरूलिया से आने वाली गाड़ियों की भी लंबी कतार लग गई। लोगों को इस रूट से जमशेदपुर जाने में भी समस्या का सामना करना पड़ा। इस रूट पर छोटी गाड़ियां वैकल्पिक रास्तों से निकल गईं पर बड़े मालवाहक गाड़ियों की लंबी लाइन लग गई। यहां जाम में फंसे कई ट्रक ड्राइवर को चक्का जाम समर्थकों ने खाना भी खिलाया।

रांची स्थित लोवाडीह दुर्गा सोरेन चौक पर चक्का जाम समर्थकों ने जाम में फंसे कई ट्रक ड्राइवर को खाना खिलाया।
रांची स्थित लोवाडीह दुर्गा सोरेन चौक पर चक्का जाम समर्थकों ने जाम में फंसे कई ट्रक ड्राइवर को खाना खिलाया।

आज पूरे देश में किसान, नौजवान और सभी गठबंधन के दल शांतिपू्र्ण तरीके से सड़क पर हैं: कृषि मंत्री

इस मौके पर कृषि मंत्री बादल पत्रलेख ने कहा कि आज पूरे देश में किसान, नौजवान और सभी गठबंधन के दल शांतिपू्र्ण तरीके से सड़क पर हैं। केंद्र सरकार द्वारा कृषि कानून, किसानों के डेथ वारंट को वापस नहीं ले लिया जाएगा, हम लोग इसी तरह सदन पर, सड़क पर लोकतांत्रिक तरीके से उन्हें मजबूर कर देंगे। 10, 13 और 30 फरवरी को झारखंड में कई जगह कई कार्यक्रम होंगे। इस कानून पर स्टेट की विधानसभा पर बहस होनी चाहिए थी। पर ऐसा नहीं किया गया।

बूंटी मोड़ पर जाम की वजह से वाहनों की कतार लग गई।
बूंटी मोड़ पर जाम की वजह से वाहनों की कतार लग गई।

रामगढ़ में भी NH जाम

वहीं, चक्का जाम समर्थकों ने लातेहार के NH-39, रामगढ़ के मांडू में रांची-पटना रोड,NH-39 मेदिनीनगर रांची रोड, बोकारो में जोधाडीह मोड़ NH-33 और गढ़वा स्थित NH-75 को भी जाम कर दिया।

बूटी मोड़ पर सड़क जाम को पार करने में एंबुलेंस ड्राइवर को काफी परेशान होना पड़ा।
बूटी मोड़ पर सड़क जाम को पार करने में एंबुलेंस ड्राइवर को काफी परेशान होना पड़ा।

लंबी समस्या से निजात के लिए ये परेशानी जरूरी

इधर, बूंटी मोड़ पर चक्का जाम कर रहे सीटू के प्रकाश विप्लव ने कहा कि लोगों को लंबी समस्या के समाधान के लिए इन छोटी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि झारखंड में सैकड़ों किसान सड़क पर हैं। सरकार को काला कानून वापस लेना होगा। वहीं, ढाई बजे के करीब बूटी मोड़ में सड़क जाम खोल दिया गया।

सड़क जाम से वाहनों की लगी लंबी कतार।
सड़क जाम से वाहनों की लगी लंबी कतार।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

और पढ़ें