पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लालू की सेहत बिगड़ी:महज 25% ही काम कर रही लालू यादव की किडनी, डॉक्टर ने कहा- कभी भी बन सकते हैं इमरजेंसी के हालात

रांची6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले में सजा काट रहे हैं। उन्हें RIMS के पेइंग वार्ड में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। -फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले में सजा काट रहे हैं। उन्हें RIMS के पेइंग वार्ड में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। -फाइल फोटो।
  • लालू प्रसाद यादव को पिछले 20 साल से डायबिटीज है, इसके चलते उनके शरीर के अंग डैमेज हो चुके हैं
  • डॉक्टर बोले- ऑर्गन डैमेज की भरपाई संभव नहीं, इलाज के लिए कहीं और ले जाने का भी कोई फायदा नहीं

चारा घोटाला में सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव की सेहत और बिगड़ गई है। रांची में राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (RIMS) के डॉक्टर उमेश प्रसाद ने बताया कि उनका किडनी फंक्शनिंग 35% से घटकर 25% रह गया है। अब उनका किडनी लेवल फोर्थ स्टेज में पहुंच चुका है। RIMS के पेइंग वार्ड में डॉ. उमेश ही लालू प्रसाद यादव का इलाज कर रहे हैं।

डॉ. उमेश प्रसाद ने बताया कि लालू की किडनी में किसी तरह का सुधार नहीं हुआ है। उन्हें पिछले 20 साल से डायबिटीज है। इसकी वजह से उनके अंग तेजी से डैमेज हो रहे हैं। RIMS के अधिकारियों को बता दिया गया है कि किडनी फंक्शनिंग आगे और बिगड़ सकती है और कभी भी इमरजेंसी के हालात बन सकते हैं।

कभी भी करना पड़ सकता है डायलिसिस

डॉ. उमेश ने बताया कि लालू यादव को किसी भी वक्त डायलिसिस की जरूरत पड़ सकती है। महज 25% काम कर रही किडनी की फंक्शनिंग में लगातार गिरावट आ रही है। लालू यादव 30 अगस्त 2018 को RIMS में भर्ती हुए थे, तब उनका किडनी लेवल थर्ड स्टेज में था। 2 साल तक इंसुलिन और डॉक्टरों के इलाज में उनकी किडनी ने बेहतर काम किया।

डायबिटीज से लालू के अंग डैमेज हुए

डॉ. प्रसाद ने कहा- हालांकि लालू यादव को इलाज के लिए कहीं और शिफ्ट करने के बारे में कोर्ट और अधिकारियों को फैसला करना है। लेकिन, मेरी राय में उन्हें कहीं और ले जाने से कोई फायदा नहीं होगा। डायबिटीज से अंगों को हुए नुकसान की भरपाई नहीं हो सकती। कोई भी दवा किडनी फंक्शनिंग को 25% से 100% पर नहीं ला सकती। अगर ऐसा नहीं होता, तो डायलिसिस या किडनी ट्रांसप्लांट की जरूरत नहीं होती।

CBI ने लालू को जेल भेजने की मांग की

इधर, दो दिन पहले CBI ने हाई कोर्ट में अपील दायर कर लालू यादव को बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार भेजने की अपील की है। CBI के मुताबिक, लालू यादव की तबियत ठीक है और उनका इलाज जेल में भी चल सकता है। इससे पहले, झारखंड हाईकोर्ट ने लालू यादव की जमानत याचिका पर सुनवाई 22 जनवरी, 2021 तक टाल दी थी। लालू के वकील ने यह याचिका दायर की थी।