मौसम का मिजाज:झारखंड में 18 अगस्त तक सक्रिय रहेगा मानसून, 24 घंटे में रांची में सबसे अधिक 56.5 MM बारिश हुई

रांची10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पिछले 24 घंटे में रांची में सबसे ज्यादा बारिश हुई है। इस दौरान यहां 56.6 मिमी बारिश हुई। - Dainik Bhaskar
पिछले 24 घंटे में रांची में सबसे ज्यादा बारिश हुई है। इस दौरान यहां 56.6 मिमी बारिश हुई।

झारखंड में पिछले 24 घंटों के मानसून की स्थिति सामान्य रही है। राज्य में कहीं-कहीं हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश रिकार्ड की गई। सबसे अधिक बारिश रांची में 56.6 मिमी रिकार्ड की गई। जबकि, जमशेदपुर में 43 मिमी बारिश हुई है।

राज्य में सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान देवघर में 37.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। सबसे कम न्यूनतम तापमान राजधानी रांची में 22.7डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विज्ञान केंद्र, रांची के वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने बताया कि राज्य में मानसून का उत्तर-दक्षिण टर्फ लाइन समुद्र तल से 1.5 किमी ऊपर सक्रिय है।

इन जिलों में आज हो सकती है बारिश

टर्फ लाइन बना होने के कारण राज्य में रांची, रामगढ़, हजारीबाग, गुमला, खूंटी, बोकारो, देवघर, धनबाद, दुमका, गिरिडीह, गोड्डा, पाकुड़ और साहेबगंज जिले के कुछ इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। साथ ही मेघ गर्जन और वज्रपात की भी संभावना है।

18 अगसत तक राज्य में सक्रिय रहेगा मानसून

राज्य के शेष जिलों में भी हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश हो सकती है। पूर्वानुमान में बताया गया है कि राज्य में 18 अगस्त तक मानसून पूरी तरह से सक्रिय रहेगा। इसके कारण बारिश, मेघ गर्जन और वज्रपात का दौर जारी रहेगा।

यहां मानसून में भी कम हुई बारिश

राज्य में सबसे कम बारिश गुमला में हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक, इस मानसून में यहां अभी तक 35 प्रतिशत कम बारिश हुई है। एक जून से 16 अगस्त तक औसत बारिश 742 MM रिकार्ड की जानी चाहिए थी। जबकि अब तक यहां केवल 480 मिमी बारिश हुई है। वहीं, सिमडेगा में 29, सरायकेला-खरसावां में 21, पश्चिमी सिंहभूम और खूंटी में 20 प्रतिशत तक कम बारिश हुई है।

हालांकि, राज्य में औसत बारिश सामान्य है। राज्य में एक जून से 16 अगस्त तक 676 MM बारिश रिकार्ड की जानी चाहिए थी, जो अभी तक 695 मिमी बारिश रिकार्ड की गई है। यह औसत बारिश से तीन प्रतिशत ज्यादा है।