पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Latest Weather Update Of Jharkhand; Ranchi's Mercury Dropped By 8 Degrees, As The Paddy Crop Flourished, The Vegetables Growers Were In Despair

72 घंटे की लगातार बारिश से तरबतर हुआ झारखंड:8 डिग्री गिरा रांची का पारा, धान के फसल लहलहाए तो सब्जी उत्पादकों के चेहरे पर छाई मायूसी, डैम और नदियां खतरे के निशान से ऊपर, आज भी जारी रहेगी बारिश

रांची7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रामगड़ के बरकाकाना क्षेत्र के जूही पेट्रोल पंप के बगल में हेहल नाला पर बनी पुलिया पूरी तरह जलमग्न हो गया है। पुलिया के उपर लगभग दो फुट तक पानी जमाहो गया है। इसके कारण इलाके का आवागमन पूरी तरह बाधित हो गया है। - Dainik Bhaskar
रामगड़ के बरकाकाना क्षेत्र के जूही पेट्रोल पंप के बगल में हेहल नाला पर बनी पुलिया पूरी तरह जलमग्न हो गया है। पुलिया के उपर लगभग दो फुट तक पानी जमाहो गया है। इसके कारण इलाके का आवागमन पूरी तरह बाधित हो गया है।

पिछले 72 घंटे से लगातार हो रही बारिश से झारखंड तरबतर हो गया है। लगातार बारिश से जहां धान के फसल लहलहा गए हैं वहीं सब्जी उत्पादकों के चेहरे पर मायूसी है। वहीं राज्य के नदी व डैम खतरे के निशान के ऊपर पहुंच गए हैं। कई जिलों में तटबंध टूट गए हैं। 24 घंटे में सबसे अधिक बारिश 89.7 मिमी हजारीबाग में हुई। उसके बाद धनबाद में 80 मिमी और कोडरमा 71 मिमी दर्ज की गई। रांची में 30 मिमी बारिश हुई।

तेज हवा के साथ बारिश से मौसम में ठंडक बढ़ी है। रांची में 48 घंटे में पारा 8 डिग्री गिरा है। मंगलवार को अधिकतम तापमान 23.9 डिग्री दर्ज किया गया। हालांकि, बुधवार दोपहर से बारिश का असर कम हो जाएगा। गुरुवार से रांची समेत कई जिलों में आसमान साफ होने और धूप खिलने के आसार हैं। मौसम विभाग के मुताबिक विश्वकर्मा पूजा तक आसामान पूरी तरह साफ होने के आसार हैं।

मौसम वैज्ञानिक से समझिए क्यों हो रही है लगातार बारिश
मौसम विज्ञान केंद्र रांची के वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने कहा कि इस मॉनसून सीजन में पहली बार डीप डिप्रेशन बना है। बंगाल की खाड़ी में बना लो प्रेशर डीप डिप्रेशन में बदल गया है, जिसके असर से पूरे राज्य में बारिश हो रही है। डीप डिप्रेशन समुद्र में तूफान बनने से पहले की स्थिति है।

बारिश के कारण नदी नाले उफान पर हैं। हजारीबाग की कई नदियों में बाढ़ से हालात हैं। ये कटमसांडी नदी का नजारा है।
बारिश के कारण नदी नाले उफान पर हैं। हजारीबाग की कई नदियों में बाढ़ से हालात हैं। ये कटमसांडी नदी का नजारा है।

तोपचांची झील, मैथन व पंचेत डैम का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर
लगातार बारिश से धनबाद के तोपचांची झील, मैथन व पंचेत डैम का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया है। इधर, जमशेदपुर में खरकई नदी खतरे के निशान के करीब पहुंच गई है। वहीं जमशेदपुर शहर के निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। जुगसलाई और बागबेड़ा में सुबह तक कई घरों में पानी भर सकता है।

तस्वीर कटकमसांडी की है। यहां बारिश की वजह से टमाटर टूटकर गिर रहे हैं। पौधा गलने लगा है।
तस्वीर कटकमसांडी की है। यहां बारिश की वजह से टमाटर टूटकर गिर रहे हैं। पौधा गलने लगा है।

भिंडी, टमाटर, धनिया, गोबी आदि सब्जियों के पौधे गल रहे

किसानों ने बताया कि लगातार हो रही बारिश किसानों के लिए वरदान है, जबकि सब्जी उत्पादकों के लिए चिंताजनक। रिमझिम बारिश होने से खेतों में लगी धान की फसल को प्राण वायु मिलेगी। उनके फूट चुके और फूट रहे अंकुर मजबूत होंगे। वहीं खेतों में पानी जमने से भिंडी, टमाटर, धनिया, गोबी आदि सब्जियों के पौधे गल रहे हैं।

आगे क्या : 18 तक राज्य के कई इलाकों में बारिश होगी
{15 सितंबर : राज्य के कई स्थानों पर हल्के व मध्यम दर्जे की बारिश। वज्रपात की भी आशंका है।
{16 सितंबर : राज्य के मध्य और दक्षिणी हिस्से में कुछ जगहों पर हल्की बारिश की संभावना।
{17 सितंबर : उत्तर-पश्चिमी हिस्से में बारिश की संभावना।
{18 सितंबर : मध्य तथा पूर्वी हिस्से में बारिश के आसार।

खबरें और भी हैं...