पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बैठक:इटकी के मेडिको सिटी प्रोजेक्ट में कुछ बदलाव किए, जिससे पीपीपी मोड पर बन सके : सीएम

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कहा- यहां मेडिकल कॉलेज में 85% सीटें झारखंड के विद्यार्थियों के लिए आरक्षित होंगी
  • मेडिको सिटी को लेकर अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री ने की बैठक

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि रांची के इटकी को मेडिकल हब के रूप में विकसित किया जाएगा। पीपीपी मोड में बनने वाले मेडिको सिटी को लेकर मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की और प्रेजेंटेशन देखा। उन्होंने कहा कि प्रोजेक्ट में कुछ बदलाव किए गए हैं। यहां मल्टी और सुपर स्पेशियलिटी चिकित्सा सुविधा से जुड़ी सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी, जिसका फायदा राज्यवासियों को होगा। उन्होंने कहा कि राज्य में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है, ताकि यहां के मरीजों को इलाज के लिए दूसरे राज्यों का रुख नहीं करना पड़े। अपने ही राज्य में उनका बेहतर इलाज हो।

अस्पताल में 30 प्रतिशत बेड नि:शुल्क इलाज के लिए रहेंगे रिजर्व

मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल के निर्माण के लिए 350 करोड़ के का बजट होगा। इस मेडिकल कॉलेज में 85 प्रतिशत सीटें झारखंड डोमिसाइल के विद्यार्थियों के लिए आरक्षित होंगी। इसके अलावा 20 प्रतिशत सीटों पर विद्यार्थियों का नामांकन स्वास्थ्य विभाग द्वारा तय की गई फीस के आधार पर होगा। वहीं मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 30 फीसदी बेड मरीजों के नि:शुल्क इलाज के लिए आरक्षित रहेंगे।

70 एकड़ जमीन पर बनेगी मेडिको सिटी

सीएम ने कहा कि इटकी स्थित सेनेटोरियम की लगभग 70 एकड़ जमीन में पीपीपी मोड पर मेडिको सिटी को विकसित करने की प्रक्रिया लंबे समय से चल रही है, लेकिन अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठा। इसलिए मेडिको सिटी प्रोजेक्ट में कुछ बदलाव किए गए हैं, ताकि इसे विकसित करने की दिशा में निजी कंपनियों और संस्थानों को आकर्षित किया जा सके। उन्हें कुछ रियायतें भी देंगे।

उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग की समीक्षा

सीएम बोले-सभी प्रमंडल मुख्यालयों में अतिरिक्त महिला कॉलेज स्थापित करें

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने हर प्रमंडल मुख्यालय में अतिरिक्त महिला कॉलेज स्थापित करने का निर्देश दिया है। शुक्रवार को उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग की समीक्षा के दौरान सीएम ने विभागीय पदाधिकारियों को निर्देश किया कि जिलों के साथ-साथ प्रमंडल मुख्यालयों में भी अतिरिक्त महिला कॉलेज स्थापित करें। ऐसा होने से छात्राओं को डिग्री लेने का बेहतर अवसर मिलेगा। सीएम ने कहा कि तकनीकी शिक्षा के अंतर्गत बीआईटी सिंदरी को आईआईटी की तरह उच्च कोटि के राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान के रूप में विकसित करें। जो 8 नए पॉलिटेक्निक कॉलेज बनकर तैयार हैं, उनमें वर्ष 2021 में नामांकन की प्रक्रिया शुरू कराएं। कॉलेजों के रिक्त पदों को शीघ्र भरें। विभाग के प्रधान सचिव शैलेश कुमार सिंह ने बताया कि विभिन्न विश्वविद्यालयों में 2030 शिक्षकों के रिक्त पदों के विरुद्ध 1350 पदों पर नियुक्ति जेपीएससी द्वारा प्रक्रियाधीन है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser