ओलिंपिक में इतिहास रच लौटी झारखंड की बेटियां:टोक्यो से लौटी सलीमा टेटे और निक्की प्रधान के स्वागत में एयरपोर्ट पर उमड़ी भीड़, खेल मंत्री हफीजुल हसन ने किया रिसीव

रांची5 महीने पहले
एयरपोर्ट से खुली जीप में दोनों को प्रोजेक्ट भवन तक ले जाया गया।

टोक्यो ओलिंपिक में अपनी काबिलियत का लोहा मनवा कर झारखंड की बेटियां और हॉकी खिलाड़ी निक्की प्रधान और सलीमा टेटे रांची लौट आई हैं। बुधवार दोपहर 1.20 बजे वह रांची एयरपोर्ट से बाहर निकलीं। यहां उनकी आगवानी में राज्य के खेल मंत्री हफीजुल हसन पहले से ही मौजूद थे। उन्होंने एयरपोर्ट पर दोनों को रिसीव किया। मंत्री के साथ दोनों खिलाड़ियों के परिजन भी वहां मौजूद थे।

खेल मंत्री खुद स्वागत के लिए पहुंचे थे एयरपोर्ट। परिजन के साथ रहे मौजूद।
खेल मंत्री खुद स्वागत के लिए पहुंचे थे एयरपोर्ट। परिजन के साथ रहे मौजूद।

वहीं, अपनी बेटियों के स्वागत में पूरा शहर एयरपोर्ट पर उमड़ा था। हाथों में तिरंगा थामे लोग 10 बजे से ही एयरपोर्ट पहुंचने लगे थे। ये बेसब्री से उनके बाहर निकलने का इंतजार कर रहे थे। उनके बाहर निकलते लोग उनकी एक झलक पाने को बेताब दिखे। इंडियन महिला हॉकी की टीम पहली बार टॉप-4 में जगह बनाने में कामयाब हुई है।

सुबह से ही लोगों का हुजूम एयरपोर्ट पर पहुंचने लगा था।
सुबह से ही लोगों का हुजूम एयरपोर्ट पर पहुंचने लगा था।

बेटियों ने कहा- थैंक यू झारखंडवासी

ओलिंपियन बेटियों ने एयरपोर्ट से बाहर निकल कहा कि झारखंड सरकार और झारखंडवासियों को थैंक यू। इस भव्य स्वागत के लिए। उन्होंने कहा कि स्वागत देखकर बहुत खुश हूं। मेडल नहीं जीतने का अफसोस है। कोशिश करूंगी कि गले ओलिंपिक में देश को मेडल दिलाऊं। इसके लिए और कठिन मेहनत करुंगी।

पारंपरिक तरीके से हुआ स्वागत

दोनों खिलाड़ियों के स्वागत के लिए एयरपोर्ट को पूरी तरीके से झारखंड के रंग में रंग दिया गया था। ढोल-नगाड़े के साथ पारंपरिक वाद्य यंत्रों व लोक नृत्यों से कलाकारों ने उनका स्वाागत किया। इस दौरान एयरपोर्ट को गुब्बारे व फूलों से भी सजाया गया था।

हाथों में तिरंगा थाम लोग पहुंचे थे एयरपोर्ट।
हाथों में तिरंगा थाम लोग पहुंचे थे एयरपोर्ट।

सरकार करेगी सम्मान

एयरपोर्ट से सीधा दोनों खिलाड़ियां प्रोजेक्ट भवन पहुंचेंगी। यहां CM हेमंत सोरेन इन्हें सम्मानित करेंगे। इन्हें 50-50 लाख रुपए का विशेष पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा सरकार की ओर से इन्हें स्कूटी, लैपटॉप और स्मार्टफोन के साथ इनके घर बनाने के लिए संबंधी कागजात भी सुपुर्द किया जाएगा।

दोनों खिलाड़ी दो दिन बाद दिल्ली लौटेंगी। यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इनसे मुलाकात करेंगे। ये 15 अगस्त के कार्यक्रम में हिस्सा ले सकती हैं। इसके अलावा UP सरकार और ओडिशा सरकार के यहां से भी इनको बुलावा आया है।

खबरें और भी हैं...