पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

योजना:झारखंड के 29 लाख बच्चों के घर समय से पहले भेजा जाएगा निवाला, छात्रों के घर तक यह खाद्यान्न पहुंचाया जा रहा है

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 31 तक खाद्यान्न व कुकिंग कॉस्ट की राशि भेजने का निर्देश
  • राहत...48 दिनों का खाद्यान्न बच्चों के घर पहुंचेगा

राज्य के 29 लाख बच्चों के घर समय से पहले निवाला (अनाज) भेजा जाएगा। पहले छात्रों को रोज स्कूलों में मिड डे मील के अंतर्गत भोजन मिलता था। अब नई व्यवस्था में तय हुआ है कि समय से पहले खाद्यान्न उनके घर पहुंच जाए, ताकि कोरोना संक्रमण काल में उन्हें कोई परेशानी न हो। मार्च में पहला लॉकडाउन लगने के बाद से ही स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग की ओर से बच्चों को खाद्यान्न व कुकिंग कॉस्ट की राशि दी जा रही है।

छात्रों के घर तक यह खाद्यान्न पहुंचाया जा रहा है। विभागीय सचिव राहुल शर्मा ने 48 दिनों का खाद्यान्न शीघ्र बच्चों को उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। इस निर्देश के बाद बच्चों के घर 31 अगस्त तक मिड डे मील का खाद्यान्न मिल जाएगा। राज्य के सरकारी स्कूलों के 29 लाख छात्र-छात्राओं को 48 दिन का चावल-दाल के अलावा कुकिंग कॉस्ट की राशि में अंडा और फल के पैसे भी जोड़ कर मिलेंगे। स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग के सचिव ने इस संबंध में आवश्यक निर्देश जारी किए हैं।

जिन बच्चों के बैंक खाते नहीं हैं, उन्हें दी जाएगी नकद राशि
शिक्षा सचिव राहुल शर्मा ने कहा है कि जिन बच्चों के बैंक खाते नहीं हैं, उन्हें नगद राशि का भुगतान किया जाएगा। पहले की तरह ही गांव में जाकर बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग के आधार पर सूखे खाद्यान्न दिए जाएंगे। कुकिंग कॉस्ट की राशि उनके बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।

31 अगस्त तक विद्यालय बंद रहेंगे, ऐसे में बच्चों को पूर्व की तरह मिड डे मील का चावल और कुकिंग कॉस्ट की राशि दी जानी है। सभी जिला 31 अगस्त तक चावल और राशि बांटने की प्रक्रिया पूरी करेंगे और इसकी रिपोर्ट संबंधित विभाग को देंगे। 17 मार्च से लॉकडाउन की वजह से स्कूल बंद हैं। अब जुलाई और अगस्त में शुरू हुए अनलॉक वन और अनलॉक टू की अवधि का भी चावल और राशि बच्चों को उपलब्ध कराई जाएगी।

5वीं तक के छात्रों को मिलेंगे 4.80 किलो चावल व 102 रु.
झारखंड राज्य मध्याह्न भोजन प्राधिकरण ने निर्देश दिया है कि 31 अगस्त तक के लिए चावल और राशि का वितरण किया जाए। पहली से पांचवीं तक के बच्चों को प्रतिदिन 100 ग्राम चावल के आधार पर 48 दिनों का 4.80 किलो चावल दिए जाएंगे। वहीं 4.97 रुपए कुकिंग कॉस्ट की दर से 238 दिए जाएंगे। 48 दिनों में 17 दिन उन्हें अंडा या फल के लिए अलग से राशि मिलेगी। इन्हें छह रुपए की दर से 102 रुपए दिए जाएंगे।

8वीं तक के छात्रों को मिलेंगे 7.20 किलो चावल और 102 रुपए
छठी से आठवीं तक के छात्र-छात्राओं को 150 ग्राम चावल के आधार पर 7.20 किलो चावल और कुकिंग कॉस्ट के लिए 7.45 रुपए की दर से 357 रुपए दिए जाएंगे। छठी से आठवीं के छात्र-छात्राओं को भी अंडा या फल के लिए 102 रुपए अलग से दिए जाएंगे।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें