सदर अस्पताल में 4 दिन से खराब है एक्सरे मशीन:रिम्स में एमआरआई और सीटी स्कैन के लिए मरीजाें को मिल रहा है 7 से 10 दिन बाद का वेटिंग नंबर

रांची2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रॉमा सेंटर में सीटी स्कैन और एमआरआई के लिए अत्याधुनिक उपकरण लगाए गए हैं, लेकिन मरीजों को जांच के लिए नंबर 7 से 10 दिन बाद का दिया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
ट्रॉमा सेंटर में सीटी स्कैन और एमआरआई के लिए अत्याधुनिक उपकरण लगाए गए हैं, लेकिन मरीजों को जांच के लिए नंबर 7 से 10 दिन बाद का दिया जा रहा है।

रिम्स में कई जरूरी उपकरण जर्जर पड़े हैं। कई अक्सर खराब होते रहते हैं। महीने में 12 से 15 दिन रेडियोलॉजिकल जांच प्रभावित रहती है। एक्सरे मशीन खराब होने के कारण कई दिनों से जांच प्रभावित है। महीनों से अल्ट्रासाउंड बंद के कगार पर है। ट्रॉमा सेंटर में सीटी स्कैन और एमआरआई के लिए अत्याधुनिक उपकरण लगाए गए हैं, लेकिन मरीजों को जांच के लिए नंबर 7 से 10 दिन बाद का दिया जा रहा है। शनिवार और रविवार को करीब 72 रोगी एमआरआई और सीटी स्कैन के लिए पहुंचे थे। जबकि, 11 की ही जांच की गई, जिन्हें पूर्व में ही जांच के लिए नंबर दिया गया था।

बचे 61 लोगों को सप्ताह भर बाद का नंबर देकर वापस लौटा दिया गया। गढ़वा से आए मरीज के परिजन राजू लोहरा ने बताया कि मरीज के ब्रेन में सूजन हो गया है। डॉक्टर ने तत्काल एमआरआई कराने को कहा है, लेकिन रिम्स में एक सप्ताह बाद बुलाया जा रहा है। एक सप्ताह बाद मरीज की स्थिति और ज्यादा बिगड़ जाएगी। वहीं, रिम्स में एक्सरे का हाल खस्ता है। फिल्म की लगातार शॉर्टेज रहती है। वहीं, सदर अस्पताल में 4 दिनों से खराब है।

मरीज की पीड़ा-

मरीज के ब्रेन में सूजन है। डॉक्टर ने तत्काल एमआरआई कराने को कहा है, लेकिन रिम्स में जांच के लिए एक सप्ताह बाद बुलाया जा रहा है। डर है कि लेट होने से मरीज गंभीर रूप से बीमार न हो जाए। -राजू लोहरा, मरीज के परिजन, गढ़वा

खबरें और भी हैं...