पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रिम्स शासी परिषद का फैसला:रिम्स में मरीजों को अब रोज 150 रु. का खाना मिलेगा...विभिन्न पदों के लिए 145 नियुक्तियां होंगी, इनमें 25 लैब टेक्नीशियन के पद

रांची8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतुल हाथों में टॉय कार लेकर बैठक में शामिल होने गए। - Dainik Bhaskar
प्रतुल हाथों में टॉय कार लेकर बैठक में शामिल होने गए।
  • ड्रामा... स्वास्थ्य मंत्री के लिए टॉय कार लेकर पहुंचे, पुलिस ने रोका

रिम्स में भर्ती मरीजों को अब प्रतिदिन 94.83 रुपए की जगह 150 रुपए का भोजन दिया जाएगा। विभिन्न पदों के लिए 145 नियुक्तियां भी होंगी। इनमें 14 ओटी असिस्टेंट और 25 लैब टेक्नीशियन भी हैं। थर्ड-फोर्थ ग्रेड की नियुक्तियों का रिजल्ट प्रकाशित करने के लिए रिम्स निदेशक को अधिकृत किया गया है। ये दो महत्वपूर्ण निर्णय बुधवार को रिम्स शासी परिषद की 49वीं बैठक में लिए गए। अध्यक्षता स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने की। बैठक में रोस्टर में गड़बड़ियों के कारण 362 नर्सों की नियुक्ति का विज्ञापन रद्द कर दिया गया है।

अब समय-सीमा के भीतर 370 नर्सों की नियुक्ति की जाएगी। एमआरडी में बाहरी अभ्यर्थियों के चयन के मामले की अलग से जांच की जाएगी। इन नियुक्तियों में गड़बड़ी पर स्वास्थ्य विभाग की कमेटी ने चार बिंदुओं पर आपत्ति की थी। बैठक में सांसद संजय सेठ, विधायक समरी लाल, स्वास्थ्य सचिव डॉ. नितिन कुलकर्णी, प्रमंडलीय आयुक्त समेत जीबी के अन्य सदस्य उपस्थित थे।

मंत्री जी मरीजों के पैसे से नहीं इसी कार से चलाएं काम : प्रतुल

रिम्स जीबी के मीटिंग हॉल के बाहर जमकर बवाल हुआ। दरअसल रांची यूनिवर्सिटी के वीसी डॉ. रमेश पांडे के प्रतिनिधि के रूप में प्रतुल शाहदेव बैठक में भाग लेने आए थे। वे अपने साथ एक गिफ्ट रैप किया हुआ टॉय कार लेकर पहुंचे। उन्होंने कहा- जब उन्हें पता चला कि रिम्स मरीजों के पैसे से मंत्री के लिए कार खरीदी जा रही है, तो वे स्वास्थ्य मंत्री को मनाने के लिए टॉय कार लेकर आए हैं, ताकि मंत्री इसी कार से मान जाएं और मरीजों के इलाज के लिए रिम्स को मिले फंड का उपयोग अपने उपभोग के लिए ना करें।

हालांकि उन्हें बैठक में शामिल नहीं होने दिया। बाद में पुलिसकर्मियों की मदद से उन्हें प्रशासनिक भवन से बाहर ले जाया गया। इस दौरान पुलिसकर्मियों के व्यवहार से वे भड़क गए। उन्होंने कहा कि जीबी बैठक के लिए प्रबंधन की ओर से आमंत्रित किया गया है। प्रतुल भवन से बाहर आने के बाद टॉय कार को स्वास्थ्य मंत्री के कार के ऊपर रख दिया और विरोध करते हुए चले गए।

अन्य निर्णय

डॉक्टरों पर कार्रवाई के प्रस्ताव पर स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोविड टाइम में डॉ. भट्टाचार्या और डॉ. शैफ़ ने अच्छा काम किया है। बीच का रास्ता निकाला जाएगा। किसी को प्रताड़ित नहीं किया जाएगा। बैठक में लिए गए अन्य निर्णय

  • नए स्थायी निदेशक डॉ. कामेश्वर प्रसाद की नियुक्ति पर सहमति।
  • जीबी सदस्य जेठा नाग का इस्तीफा स्वीकृत, नए सदस्य को शामिल करने पर सहमति।
  • एम्स नई दिल्ली के ट्रॉमा सेंटर के अनुरूप रिम्स के ट्रॉमा सेंटर को विकसित किया जाएगा।
  • पैथोलॉजिकल जांच सिस्टम को दुरुस्त किया जाएगा, सेंट्रलाइज्ड कलेक्शन सेंटर बनाया जाएगा
खबरें और भी हैं...