पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • People Who Are Not Coming Forward For Vaccines And Investigations, Who Will Not Arrive; Those On The Waiting List Will Be Replaced By Corona Vaccine

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही भारी पड़ेगी:वैक्सीन और जांच के लिए आगे नहीं आ रहे हैं लोग, जो नहीं पहुंचेंगे; उनकी जगह प्रतीक्षा सूची वालों को लगेगा कोरोना का टीका

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिहार में जो स्वास्थ्यकर्मी गैरहाजिर होते हैं तो उनका नाम सूची से हटा दिया जाता है
  • इसके बाद चाहकर भी वैक्सीन नहीं ले सकते, ऐसा कदम यहां भी उठाने की जरूरत है

कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन आने से बड़ी राहत मिली। इससे लगा कि अब कोरोना की हार तय है। लेकिन, जिस तरह से आम लोग और प्रशासन की ओर से लापरवाही बरती जा रही है, उससे लग रहा है कि फिलहाल कोरोना को खत्म करना मुश्किल है। कोरोना को हराने के लिए जांच, मास्क लगाना, सोशल डिस्टेंसिंग और वैक्सीन लेना जरूरी है। लेकिन, वैक्सीन लेने के लिए काफी कम लोग आगे रहे हैं। नामकुम सीएचसी में बुधवार काे 53 स्वास्थ्यकर्मियाें ने ही वैक्सीन लिया। 4 दिनाें में पूरे रांची जिले में 56.81 प्रतिशत स्वास्थ्यकर्मियाें ने ही वैक्सीन लिया है। जबकि, स्वास्थ्य विभाग की ओर से राेजाना हर बूथ पर 100 स्वास्थ्यकर्मी काे वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा गया था।

हालांकि, बुधवार काे पिछले 3 दिनाें की अपेक्षा सबसे ज्यादा 230 लाभुकाें ने वैक्सीन लिया। इसमें सदर हाॅस्पिटल में 97, रिम्स में 80 और नामकुम सीएचसी में 53 स्वास्थ्यकर्मियाें ने वैक्सीन लगवाया। इसे देखते हुए वैक्सिनेशन सेंटरों में नया अपडेट किया गया है। पहले विभाग द्वारा भारत सरकार के को-विन ऐप से जो सूची निकलती थी, उसी के अनुरूप टीकाकरण होता है। इसका शेड्यूल भी ऑटोमेटिक होता था। लेकिन, अब केंद्रों में नई फेसिलिटी दी गई है, जिसके तहत वैसे स्वास्थ्यकर्मी जो पहले से को-विन ऐप में रजिस्टर्ड हैं और उनका शेड्यूल नहीं हुआ है, उनका तत्काल शेड्यूल किया जा सकता है।

जिले में कोरोना मरीजों के आंकड़े घट गए, क्योंकि जांच कराने वाले ही कम हो गए

रांची जिले में मरीजों की संख्या भी कम हो रही है। बीते 20 दिनों के आंकड़े को देखें तो नए मरीजों की तुलना में ठीक होने वाले की संख्या लगातार बढ़ रही है। 20 दिनों में 1391 नए मरीज मिले। जबकि, ठीक होने वालों की संख्या 1684 रही। मतलब औसतन 69 नए मरीज प्रतिदिन मिल रहे हैं, जबकि ठीक होने वालों की संख्या 84 है। अगर, साल के पहले दिन यानी एक जनवरी के आंकड़े को देखें तो 1052 लोगों ने कोरोना जांच कराई थी। इसमें 71 पॉजिटिव मिले थे, तो उस दिन सिर्फ 28 लोग ही कोरोना को हरा पाए थे। 1 जनवरी तक रांची में 818 एक्टिव केस थे। 20 जनवरी तक एक्टिव केस की संख्या 516 रह गई। मगर, जांच के आंकड़े पर नजर डालें तो यह गंभीर स्थिति है। क्योंकि, दिसंबर में जहां प्रतिदिन औसतन 1996 लोग काेरोना जांच करा रहे थे। वहीं, जनवरी में प्रतिदिन 1142 लोग ही जांच करा रहे हैं। इससे नए मरीजों की संख्या बीते माह से कुछ कम हो गई है।

जांच को लेकर जिला प्रशासन भी हुआ सुस्त

रांची में कोरोना जांच कराने वाले मरीजों की संख्या लगातार कम हो रही है। इसके लिए आम लोग लापरवाही बरत रहे हैं, वहीं जिला प्रशासन भी सुस्त हो गया है। क्योंकि, बिना मास्क घूमने वालों पर कार्रवाई के नाम पर बस एक-दो की खानापूर्ति हुई। भले ही शहर के चौक-चौराहों में लगे सिग्नल के पास बिना मास्क के घूमने वालों पर कार्रवाई का रिकॉर्डेड मैसेज बार-बार बजता रहता है। मगर, किसी पर कार्रवाई नहीं हो रही है।

मेडिकल टीम कार्यरत, लोग जांच नहीं करा रहे

कोरोना जांच के लिए स्टैटिक सेंटर में मेडिकल टीम कार्यरत है। सेंटरों को बंद नहीं किया जा रहा है। जिन सेंटरों में लोगों का टर्नअप कम होता है, तो उसे शिफ्ट किया जाता है। लोग पहले की तुलना में जांच में रुचि नहीं ले रहे हैं। लोगों को खुद आगे आकर जांच करानी चाहिए।
- डॉ. बीवी प्रसाद, सिविल सर्जन, रांची

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें