पढ़ाई के नाम पर खानापूर्ति:मिड टर्म के आधार पर प्रमोट होंगे पीजी छात्र, सिर्फ फाइनल सेमेस्टर की ली जाएगी परीक्षा

रांची2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पीजी सेकेंड सेमेस्टर के रिजल्ट को लेकर छात्रों ने प्रशासनिक भवन के द्वार पर जड़ा ताला

रांची यूनिवर्सिटी में न तो समय पर परीक्षा हो रही है और न ही समय पर परीक्षा के नतीजे घोषित हो रहे हैं। पढ़ाई के नाम पर खानापूर्ति की जा रही है। मंगलवार को पीजी सेकेंड सेमेस्टर के रिजल्ट समेत अन्य समस्याओं को लेकर सैकड़ों छात्र विवि मुख्यालय में पहुंचे थे। छात्राें ने प्रशासनिक भवन के द्वार पर ताला जड़ दिया और आरयू की कार्य संस्कृति के विरोध में नारेबाजी की।

इसके बाद वीसी ने छात्रों को वार्ता के लिए आमंत्रित किया। बातचीत के क्रम में परीक्षा नियंत्रक डॉ. आशीष कुमार झा और सीवीएस डिप्टी कोऑर्डिनेटर डॉ. स्मृति सिंह से छात्रों की तीखी नोकझोंक हुई। छात्रों ने कहा कि जब काम करना था, तब कुछ नहीं किए। अभी वीसी से बात हो रही है। इसलिए, आपलोग कुछ नहीं बोलें तो अच्छा होगा। वीसी ने कहा कि मिड सेमेस्टर के आधार पर छात्र अगले सेमेस्टर में प्रमोट होंगे।

सिर्फ फाइनल सेमेस्टर में ऑफलाइन परीक्षा आयोजित की जाएगी। वीसी ने अन्य डिमांड पर कार्यवाही करने की बात कही। इसके बाद एबीवीपी के बैनर तले चल रहा धरना-प्रदर्शन और हंगामा समाप्त हो गया। प्रदर्शन में मीडिया संयोजक रोहित दुबे, विभाग संयोजक अनिकेत सिंह, जिला संयोजक प्रेम प्रतीक केशरी, मंत्री अंकित रंजन, मुन्ना यादव समेत अन्य थे। छात्रों ने कहा कि विवि और कॉलेजों की लाइब्रेरी में सिलेबस के अनुसार किताबें उपलब्ध कराई जाए।

छात्रों की वीसी से वार्ता

रोकटोक पर छात्रों ने परीक्षा नियंत्रक व सीवीएस डिप्टी कोऑर्डिनेटर से कहा- जब काम करना था तो नहीं किए, अच्छा होगा अब कुछ न बाेलें।

खबरें और भी हैं...