पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

व्यवसायियों में दहशत:बेबस पुलिस- पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप के नाम पर अपर बाजार के दवा कारोबारी से मांगी 50 लाख की रंगदारी

रांची3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इंटरनेट की मदद से स्पूफ कॉल का इस्तेमाल कर रहे नक्सली, इसलिए नहीं पकड़ पा रही पुलिस, एसएसपी का दावा- जल्द पकड़े जाएंगे अपराधी

पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप के नाम पर अपर बाजार के दवा कारोबारी विजय कुमार सिंघानिया से वाट्सएप कॉल के जरिए 50 लाख रु. की रंगदारी मांगी गई है। पैसे नहीं देने पर जान माल की क्षति की धमकी दी गई है। दवा कारोबारी को उनके वाट्सएप नंबर पर पहले पीएलएफआई के लेटर पैड पर दिनेश गोप के नाम से 50 लाख रंगदारी देने का मैसेज भेजा गया। इसके बाद एक ऑडियो मैसेज भेजा गया। फिर धमकी देने के लिए वीडियो कॉल किया गया। इस संबंध में दवा कारोबारी ने कोतवाली थाने में रंगदारी मांगने की प्राथमिकी दर्ज कराई है। सिंघानिया ने कहा है कि उनके पास 12602358290 नंबर से 31 अक्टूबर को रंगदारी मांगने का मैसेजे आया। जिस नंबर से 31 अक्टूबर को वाट्सएप कॉल किया गया, उसी नंबर से धुर्वा के टेंट हाउस कारोबारी संदीप कुमार को भी धमकी दी गई थी।

प्राथमिकी दर्ज... रंगदारी मांगने वालों के दो नंबर, ऑडियो मैसेज, पीएलएफआई का लेटर पैड, एक अपराधी की तस्वीर पुलिस को मिली

क्या है ऑडियो मैसेज...
विजय सिंघानिया... हम जानते हैं कि झारखंड में तुम्हारे कहां-कहां और क्या व्यवसाय हैं। तुम्हारे दो बेटे हैं, हमें यह भी जानकारी है। अगर पैसे नहीं देते हो और संगठन से बात नहीं करते हो तो तुम्हारे साथ फौजी कार्रवाई की जाएगी।

सितंबर में दो वारदात
इस साल 18 सितंबर को तुपुदाना के राइस मिल संचालक अनीश गुप्ता से 1 करोड़, फिर 22 सितंबर को उनके पार्टनर प्रवीण कुमार से भी एक करोड़ की रंगदारी सुजीत सिन्हा के नाम पर मांगी गई थी।

रांची एसएसपी खुद कर रहे दोनों मामलों की मॉनिटरिंग रहे हैं।

धुर्वा के टेंट हाउस कारोबारी और अपर बाजार के दवा व्यवसायी से 50 लाख की रंगदारी मांगे जाने के बाद धुर्वा व कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज करा दी गई है। एसएसपी रांची खुद दोनों मामलों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। रंगदारी मांगने वालों के दो नंबर, ऑडियो मैसेज, पीएलएफआई के लेटर पैड और वीडियो कॉल करने वाले एक अपराधी की तस्वीर पुलिस के हाथ लगी है। पुलिस यह ट्रेस कर रही है कि कॉल कहां से किए जा रहे हैं। इसके पीछे कौन लोग हैं। दोनों नंबर से स्पूफ कॉल किए जा रहे है।

साइबर एक्सपर्ट

नंबर को ट्रेस करना मुश्किल
नंबर को ट्रेस करना काफी मुश्किल है। जिन नंबरों से फोन किए जा रहे हैं वे स्पूफ कॉल के एप से क्रिएट किए गए हैं। ये नंबर तभी ट्रेस हो सकते हैं, जब यूजर अॉनलाइन रहे। इसमें कॉलर अपनी पहचान व मोबाइल नंबर छिपाकर कॉल करता है। भारत में स्पूफ कॉल पर प्रतिबंध है।

सिमडेगा व अड़की से किए गए कॉल

जांच में पता चला है कि दोनों कारोबारियों को सिमडेगा व अड़की के पास से कॉल किए जा रहे हैं। पुलिस यह जांच रही है कि जो मैसेज कारोबारियों को भेजे गए वह वास्तव में पीएलएफआई के लोगों के हैं या किसी अन्य के।

सीधी बात

  • अपर बाजार में दवा व्यवसायी से भी पीएलएफआई के नाम पर रंगदारी मांगी गई है। क्या सही है या किसी गिरोह का काम है?

-अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि पीएलएफआई द्वारा रंगदारी के मैसेज भेजे जा रहे हैं या किसी अन्य गिरोह का यह काम है।

  • पुलिस की जांच कहां तक पहुंची है?

-मैं खुद इस मामले को देख रहा हूं। अपराधी इंटरनेट कॉल कर रहे हैं, इसलिए कॉलर का पता लगाने में थोड़ा वक्त लग रहा है। जल्द अपराधी पकड़े जाएंगे।

  • क्या कारोबारियों की सुरक्षा बढ़ाई गई है?

-उनकी ओर से सुरक्षा नहीं मांगी गई है। अगर मांगी जाएगी तो पुलिस देगी। वैसे उनपर नजर रख रही है कि कोई परेशानी न हो।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser