तीसरी लहर से जंग की तैयारी:एक सप्ताह में इटकी-नामकुम में लग जाएंगे पीएसए प्लांट, सदर अस्पताल में बढ़ेंगे 236 ऑक्सीजन बेड

रांची3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिजली विभाग के इंजीनियराें काे जेनरेटर लगाने का निर्देश

काेराेना की तीसरी लहर आने से पहले जिला प्रशासन अपनी तैयारियाें में जुटा है। अस्पतालाें में ऑक्सीजन और ऑक्सीजन वाले बेड की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए तेजी से काम हाे रहा है।

मंगलवार काे उप विकास आयुक्त विशाल सागर ने जिले के अस्पतालाें में लग रहे पीएसए प्लांटाें की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की और इस काम में जुटे भवन निर्माण निगम काे निर्देश दिया कि 30 जुलाई तक नामकुम सीएचसी और इटकी अस्पताल में पीएसए लगाने का काम हर हाल में पूरा करें।

नामकुम में अरविंद मिल्स के सहयाेग से प्लांट लग रहा है, जाे बुधवार काे रांची पहुंचेगा। इसी तरह टाटा स्टील के सहयाेग से इटकी में पीएसए प्लांट लगाया जा रहा है। डीडीसी ने कहा कि सदर अस्पताल रांची और अनुमंडल अस्पताल बुंडू में पीएसए प्लांट लगाने के लिए चयनित एजेंसी को दाे दिनों में वर्क आर्डर दें।

अगले 10 दिनाें में सदर अस्पताल में 236 और बुंडू में 40 ऑक्सीजन बेड तैयार कर लिए जाएं। सीएचसी नामकुम में पीएसए लगाने के लिए कार्यपालक अभियंता से प्राक्कलन मांगा गया। बिजली विभाग के कार्यपालक अभियंता काे निर्देश दिया कि जहां प्लांट लगने हैं, वहां डीजी सेट लगाने की व्यवस्था करें।

पीएसए प्लांट लगने से यह हाेगा फायदा
अस्पतालाें में पीएसए ( प्रेशर स्विंग एडसाेर्पशन ऑक्सीजन) प्लांट लग जाने से सिलेंडर और रिफिलिंग की समस्या समाप्त हाे जाएगी। अस्पतालाें में ही उत्पादन हाेगा और पाइप से बेड तक पहुंचाया जा सकेगा। काेराेना के पीक के समय अस्पतालाें में अाॅक्सीजन की कमी हाे गई थी, इस समस्या के निदान के लिए अस्पतालाें में ही पीएसए प्लांट बनाने का निर्णय लिया गया है।

खबरें और भी हैं...