पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

RIMS में रैगिंग!:प्रबंधन ने 8 सदस्यीय कमेटी का किया गठन, 24 घंटे के अंदर पूरे घटना की मांगी जानकारी, कल जूनियर और सीनियर में हुआ था टकराव

रांची22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हॉस्टल नम्बर 4 में शनिवार रैगिंग को लेकर मेडिकल छात्रों के दो गुटों में रविवार को भिड़ंत हो गई थी। दोनों गुटों के बीच हुआ टकराव इतना बढ़ गया था कि यह जूनियर वर्सेज सीनियर की लड़ाई में तब्दील हो गया था। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
हॉस्टल नम्बर 4 में शनिवार रैगिंग को लेकर मेडिकल छात्रों के दो गुटों में रविवार को भिड़ंत हो गई थी। दोनों गुटों के बीच हुआ टकराव इतना बढ़ गया था कि यह जूनियर वर्सेज सीनियर की लड़ाई में तब्दील हो गया था। (फाइल फोटो)

RIMS में रैगिंग हुआ है कि नहीं, इसकी अब 8 सदस्यीय कमेटी जांच करेगी। कमेटी को 24 घंटे के भीतर अपनी रिपोर्ट जमा करने के लिए कहा गया है। RIMS के उपाधीक्षक विवेक कश्यप ने बताया कि घटना की जानकारी मिलने के बाद संबंधित हॉस्टल के सुपरिटेंडेंट और अन्य लोगों को बुलाकर जानकारी ली गयी है।

इसके बाद आठ सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी को 24 घंटे में जांच कर रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि हॉस्टल में मादक पदार्थों का सेवन वर्जित है। जांच के बाद सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

जांच कमेटी में डीन स्टूडेंट वेलफेयर-डॉ हीरेन बिरुआ(चेयरमैन), डॉ एनएन सिंह(डीन डेंटल), डॉ शैलेश कुमार त्रिपाठी (उपाधीक्षक RIMS), हैदर अली (विजिलेंस ऑफिसर, RIMS) के अलावा हॉस्टल- 2,3,4, और 7 के वार्डन शामिल हैं.

रविवार को हॉस्टल नंबर-4 में दो गुटों में हुई थी भिड़ंत
दरअसल हॉस्टल नम्बर 4 में शनिवार रैगिंग को लेकर मेडिकल छात्रों के दो गुटों में रविवार को भिड़ंत हो गई थी। दोनों गुटों के बीच हुआ टकराव इतना बढ़ गया था कि यह जूनियर वर्सेज सीनियर की लड़ाई में तब्दील हो गया। दोनों के बीच जमकर हाथापाई हुई थीा। मामले को बेकाबू होता देख मौके पर भारी संख्या में पुलिस को RIMS हॉस्टल में बुलाना पड़ा था।

खबरें और भी हैं...