उपसमिति की बैठक:बरकाकाना रूट से राजधानी डायवर्ट, रांची-चोपन एक्स. बंद, व्यापारी परेशान

रांची2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बैठक में चैंबर अध्यक्ष धीरज तनेजा, महासचिव राहुल मारू व अन्य। - Dainik Bhaskar
बैठक में चैंबर अध्यक्ष धीरज तनेजा, महासचिव राहुल मारू व अन्य।

झारखंड चैंबर की रेलवे उपसमिति की बैठक गुरुवार को चैंबर भवन में हुई। रांची रेलमंडल द्वारा प्लेटफॉर्म टिकट का मूल्य घटाए जाने के फैसले का स्वागत किया गया। चैंबर अध्यक्ष धीरज तनेजा ने कहा कि रांची-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस को वाया बरकाकाना मार्ग से परिवर्तित कर लोहरदगा रूट से कर दिया गया है, जिससे रामगढ़ के लोगों की परेशानी बढ़ गई है।

इस मार्ग से रांची-चोपन एक्सप्रेस (वाया बरकाकाना) का परिचालन कोविड काल से बंद है। रामगढ़ कोयला उत्पादक क्षेत्र होने के साथ-साथ कृषि बहुल क्षेत्र भी है, जहां से कृषक रांची-चोपन एक्सप्रेस के माध्यम से सब्जी बिक्री के लिए आवागमन करते हैं। ट्रेन के बंद होने से कृषक, श्रमिक सहित आमजनों को नियमित रूप से कठिनाइयां हो रही हैं।

राजधानी को एक व चोपन एक्स. को 3 दिन चलाया जाए

रामगढ़ में देश का सबसे बड़ा मिलिट्री कैंप भी है, जहां हजारों की संख्या में दूसरे राज्यों विशेषकर हरियाणा, पंजाब, राजस्थान और दिल्ली जैसे क्षेत्रों से नौजवान सेना में भर्ती के लिए रामगढ़ आते रहते हैं। ऐसे में यह ट्रेन आर्मी के लिए भी महत्वपूर्ण है।

ऐसे में रांची-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस को पूर्व की भांति (वाया मुरी-बरकाकाना) सप्ताह में एक दिन और ट्रेन संख्या 18613/18614 रांची-चोपन एक्सप्रेस (वाया बरकाकाना) को सप्ताह में तीन दिन लोहरदगा लाइन और तीन दिन वाया बरकाकाना परिचालित करना चाहिए। बैठक में चैंबर उपाध्यक्ष दीनदयाल बरनवाल, कार्यकारिणी सदस्य आदित्य मल्होत्रा, अनिष बुधिया आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...