रांची में अतिक्रमण पर चला रेलवे का बुलडोजर:रेलवे ने 22 दुकानों को गिराया गया, 12 सितंबर को ही दिया गया था खाली करने का नोटिस, अब लगाए दुकान तो होगी गिरफ्तारी

रांची7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्रवाई के मद्देनजर सुबह से ही यहां बड़ी संख्या में RPF की तैनाती कर दी गई थी। - Dainik Bhaskar
कार्रवाई के मद्देनजर सुबह से ही यहां बड़ी संख्या में RPF की तैनाती कर दी गई थी।

रांची के डोरंडा स्थित मेकॉन कॉलोनी के पास रेलवे की जमीन पर अवैध कब्जा जमाए लोगों पर कार्रवाई की गई है। अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत रेलवे ने शुक्रवार को यहां लगभग 22 भवनों पर अपना बुलडोजर चलाया है। इनमें सभी इमारतों में कॉमर्शियल एक्टिविटी हो रही थी।

अवैध रूप से बनाई गई सभी इमारतों को रेलवे के अधिकारियों ने जमींदोज करा दिया है।
अवैध रूप से बनाई गई सभी इमारतों को रेलवे के अधिकारियों ने जमींदोज करा दिया है।

इससे पहले सुबह से ही यहां बड़ी संख्या में RPF की तैनाती कर दी गई थी। पहले सभी से दुकान को खाली करने का आदेश दिया और बुलडोजर चलवा दिया गया। रांची रेल मंडल के सीनियर DCM सह CPRO अवनीश कुमार ने बताया कि पहले ही अवैध तरीके से रह रहे लोगों को नोटिस दे दिया गया था। वहीं लोगों को वार्निंग भी दी गई कि वे लोग दोबारा से वहां अतिक्रमण न करे।

रेलवे की ओर से 12 सितंबर को अवैध रूप से रह रहे लोगों को नोटिस जारी किया गया था। कुछ लोगों ने अपने मकान और दुकान को खाली कर दिया था, लेकिन कुछ दिनों के बाद वे लोग फिर से आकर रहने लगे थे।

खबरें और भी हैं...