RIMS में अगले महीने से CT स्कैन की भी सुविधा:हॉस्पिटल में 2 मशीन लगेंगी, एक की हो चुकी है खरीदारी, HC ने कहा- इसके अलावा RIMS में हर व्यवस्था अपनी होनी चाहिए, आउटसोर्सिंग नहीं

रांची9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोर्ट ने कहा कि  RIMS राज्य का बड़ा अस्पताल है। पूरे राज्य से गरीब यहां इलाज कराने आते हैं। यहां सभी संसाधन मौजूद होने चाहिए। - Dainik Bhaskar
कोर्ट ने कहा कि RIMS राज्य का बड़ा अस्पताल है। पूरे राज्य से गरीब यहां इलाज कराने आते हैं। यहां सभी संसाधन मौजूद होने चाहिए।

RIMS में इलाज कराने वालों को अब CT स्कैन के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। अगले महीने से हॉस्पिटल में ही इसकी सुविधा होगी। यहां इसके लिए दो मशीन लगाई जाएगी। एक की खरीदारी हो चुकी है तो दूसरे की खरीदारी प्रक्रिया शुरू हो गई है। बहुत जल्द उसे भी पूरा कर लिया जाएगा ।

RIMS की तरफ से गुरुवार को हाईकोर्ट को यह जानकारी दी गई। इस पर चीफ जस्टिस डॉ रवि रंजन और जस्टिस सुजीत नारायण प्रसाद की अदालत ने कहा कि RIMS राज्य का बड़ा अस्पताल है। पूरे राज्य से गरीब यहां इलाज कराने आते हैं। यहां सभी संसाधन मौजूद होने चाहिए। RIMS को चाहिए कि यहां की व्यवस्था आउटसोर्सिंग न हो, बल्कि सब कुछ हॉस्पिटल का स्थायी हो।

दवाई दोस्त संचालक ने भी बताई अपनी बात

सुनवाई के दौरान दवाई दोस्त के संचालक की ओर से बताया गया कि हाईकोर्ट के आदेश के बाद दवाई दोस्त की दुकान हटा ली गई है। इस पर रिम्स की ओर से बताया गया कि दवाई दोस्त को रिम्स परिसर में जगह एक साल के लिए दी गई थी, लेकिन उनकी ओर से अवधि विस्तार के लिए कोई आवेदन नहीं दिया गया है। इसके बाद रिम्स ने उन्हें परिसर खाली करने को कहा है। इस पर कोर्ट ने कहा कि रिम्स इस मामले में अपने स्तर से निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र है।

खबरें और भी हैं...