पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पिता को तो बचा लिया, अपनी जान गंवा दी:पिता का इलाज करा हॉस्पिटल से घर लौट रहे बेटे की रांची में सड़क दुर्घटना में मौत, 3 दिन से पिता हॉस्पिटल में एडमिट हैं

रांची3 महीने पहले
हादसा इतना भीषण था कि कार के परखच्चे उड़ गए थे। इस दौरान युव कार में अकेल था।

रांची के नामकुम थाना क्षेत्र के लोवाडीह में गुरुवार सुबह सड़क हादसे में एक युवक की मौत हो गई। उसकी पहचान तमाड़ निवासी फूल चंद नायक के रूप में हुई है। वह अपने पिता का इलाज कराकर रांची के मेडिका हॉस्पिटल से अपने घर तमाड़ लौट रहा था।

इसी दौरान लोवाडीह मोड़ के पास युवक की कार नामकुम की तरफ से आ रहे कंटेनर में सीधा टकरा गई। हादसा इतना जबरदस्त था कि कार के अगले हिस्से का पूरी तरह से नष्ट हो गया। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस घायालावस्था में इलाज के लिए उसे रिम्स भेजी। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। दुर्घटनाग्रस्त वाहन को पुलिस जब्त कर ली।

तीन दिन से ठीक से सो नहीं पाया था
फूलचंद तिर्की के पिता विधु भूषण नायक पिछले तीन दिन से बीमार हैं। उनकी स्थिति बिगड़ने पर मंगलवार को मेडिका में एडमिट कराया गया था। ये लगातार उनकी सेवा कर रहा था। परिजनों के मुताबिक तीन दिन से सही से सो नहीं पाया था। इसी क्रम में यह सुबह-सुबह घर आने के दौरान हादसा हो गया।

लोगों की मदद से पहुंचाया गया अस्पताल
एक्सिडेंट इतना भयावह था कि कार का पूरा परखच्चा उड़ गया था। घटना के तुरंत बाद स्थानीय लोग घटनास्थल पर जमा हो गए। लोगों ने चिपके हिस्से से किसी तरह से फूलचंद तिर्की को बाहर निकाला गया। तुरंत एंबुलेंस से रिम्स भेजा गया। लेकिन सिर में गंभीर चोट होने के कारण उसकी मौत हो गई। पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

खबरें और भी हैं...