भ्रष्टाचार कथा पैसों की पूजा:सत्यजीत वही खान पदाधिकारी हैं, जिनके कार्यकाल में सीएम को खनन पट्टा आवंटित किया गया

रांची8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक साल पहले जिला खनन अधिकारी सत्यजीत ने दिया था इस्तीफा, पूजा सिंघल के यहां जिस दिन ईडी का छापा पड़ा, उसी दिन वापस लेने की दी अर्जी

एक साल पहले रांची के जिस जिला खनन पदाधिकारी सत्यजीत ने विभाग से इस्तीफा दिया था, उन्होंने पूजा सिंघल के आवास पर जिस दिन (6 मई) ईडी ने छापेमारी की, उसी दिन अपना इस्तीफा वापस लेने के लिए अर्जी दे दी। यह खुलासा तब हुआ जब सत्यजीत द्वारा इस्तीफा वापस लेने का पत्र सामने आया।

सत्यजीत ने छह मई को खान सचिव को इस्तीफा वापस लेने के लिए पत्र लिखा है। अपने पत्र में सत्यजीत ने लिखा था कि मैं व्यक्तिगत कारणों से 30 अप्रैल 2021 को इस्तीफा दिया था। पर, आज की तिथि तक स्वीकार नहीं किया गया है, इसलिए मैं अपना इस्तीफा वापस लेता हूं।

मुझे फिर से जिला खनन पदाधिकारी के रूप में कार्य करने की अनुमित प्रदान की जाए। दूसरी ओर, ईडी कार्यालय में शनिवार को भी पूजा सिंघल से जब्त रुपए और पल्स अस्पताल के निर्माण में लगे पैसे के स्राेत के बारे में पूछताछ की। वहीं, शनिवार को पूजा के बच्चे भी उनसे मिलने के लिए पहुंचे।

साइबर अपराधी फोन कर बोल रहे हैं- कुछ ले-देकर रफा-दफा करें तो आपको पूछताछ के लिए ईडी कार्यालय नहीं आना होगा

ईडी की चल रही पूछताछ के बाद खान विभाग में इन दिनों हलचल मची है। खान विभाग के अधिकारी डरे-सहमे हैं कि कहीं ईडी उन्हें भी पूछताछ के लिए ना बुला ले। इसका फायदा इन दिनों साइबर अपराधी उठा रहे हैं। साइबर अपराधी खनन पदाधिकारियों से वसूली के लिए उन्हें फोन कर बोल रहे हैं कि वे ईडी कार्यालय से फोन कर रहे हैं।

उन्हें पूछताछ के लिए आना होगा। कुछ देर बात करने के लिए वे यह भी कह रहे हैं कि अगर कुछ ले देकर आप मामले को रफा-दफा करें तो आपको पूछताछ के लिए ईडी कार्यालय नहीं आना होगा। ईडी ने तीन जिलों के खनन पदाधिकारियों को पूछताछ के लिए समन किया है। इसलिए, खनन पदाधिकारी डर जा रहे हैं। हालांकि, अभी तक ठगी के शिकार नहीं हुए हैं।

जून 2021 को खनन पट्टा के लिए कागजात लेकर आने को कहा था
सत्यजीत वही खान पदाधिकारी हैं, जिनके कार्यकाल में ही अनगड़ा स्थित खनन पट्टा सीएम हेमंत सोरेन को आवंटित किया गया था। डीसी छवि रंजन 15 जून 2021 को हेमंत सोरेन को खनन पट्टा आवंटन मामले में लेटर ऑफ इंटेंट (काम करने की इच्छा) दिया था। इसके अगले दिन 16 जून 2021 को सत्यजीत ने हेमंत सोरेन को खनन पट्टा मामले में कागजात लेकर उपस्थित होने के लिए लेटर लिखा था।

खबरें और भी हैं...