• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • So Far 71 Lakh People In Jharkhand Have Not Even Received The First Dose Of Corona Vaccine, Only 35.5% People Have Got The Second Dose.

CM का आदेश, 40 दिन में करें 100% वैक्सीनेशन:झारखंड में अभी तक 71 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज भी नहीं लगी, मात्र 35.5% लोगों ने लगवाया है सेकेंड डोज

रांची8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस दौरान CM को बताया गया कि राज्य में सरकारी और निजी संस्थानों ने मिलाकर 99 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने का का लक्ष्य रखा था। अबतक 80 मेडिकल ऑक्सीजन के प्लांट राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में स्थापित हो चुके हैं। - Dainik Bhaskar
इस दौरान CM को बताया गया कि राज्य में सरकारी और निजी संस्थानों ने मिलाकर 99 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने का का लक्ष्य रखा था। अबतक 80 मेडिकल ऑक्सीजन के प्लांट राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में स्थापित हो चुके हैं।

झारखंड के CM हेमंत सोरेन ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को 40 दिन (20 जनवरी तक) में कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य 100% पूरा कर लेने का लक्ष्य दिया है। जबकि अभी तक राज्य में 71 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की पहली डोज ही नहीं लगी है। इतना ही नहीं सेकेंड डोज की सीमा पूरी हो जाने के बाद भी अभी तक मात्र 35.5% लोगों ने इसे लगवाया है। 65% लोग अभी भी इससे दूर हैं।

CM गुरुवार को हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों के साथ ओमिक्रॉन से बचाव पर हाईलेवल मीटिंग कर रहे थे। इसमें उन्होंने किसी भी सूरत में इस नए स्ट्रेन को नजरअंदाज नहीं करने की हिदायत दी है। उन्होंने कहा है कि इससे संबंधी जो भी बचाव कार्य हों उसे हमें समय से पहले पूरा कर लेना है।

राज्य में 4863 ऑक्सीजन बेड और 3204 ICU बेड तैयार
इस दौरान हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने CM को बताया कि राज्य के कोविड अस्पतालों में मरीजों के बेहतर इलाज के लिए 14863 ऑक्सीजन बेड, 3204 ICU बेड, 1456 वेंटिलेटर और 8738 नार्मल बेड तैयार रखे गए हैं। छोटे बच्चों के गुणवत्तापूर्ण इलाज हेतु 1147 ICUबेड, 1799 ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड, 234 वेंटिलेटर और 375 मीडियम आईसीयू (एचडीयू) बेड तैयार किए गए हैं।

ओमिक्रॉन के मरीजों के लिए अलग वार्ड बनायें
CM ने निर्देश दिया है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट के मरीजों के बेहतर इलाज के लिए कोविड अस्पतालों में अलग वार्ड की व्यवस्था करें। राज्य के सभी जिलों में पर्याप्त मात्रा में दवा, आईसीयू बेड, ऑक्सीजन बेड आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करें।जिस जिले अथवा क्षेत्रों में पॉजिटिव मरीजों की संख्या ज्यादा है, वहां कोविड जांच अधिक से अधिक हो यह सुनिश्चित करें।

25 जनवरी 2022 तक और 13 ऑक्सीजन प्लांट होंगे तैयार
इस दौरान CM को बताया गया कि राज्य में सरकारी और निजी संस्थानों ने मिलाकर 99 मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने का का लक्ष्य रखा था। अबतक 80 मेडिकल ऑक्सीजन के प्लांट राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में स्थापित हो चुके हैं। 25 जनवरी तक 13 और मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट बनकर तैयार हो जाएंगे।

खबरें और भी हैं...