भाजपा की मानव श्रृंखला:अपराधियों की ढाल बनी राज्य सरकार आदिवासियों पर बढ़ा अत्याचार

रांची9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बढ़ते अपराध के खिलाफ आयोजित मानव श्रृंखाल में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जफर इस्लाम व अन्य। - Dainik Bhaskar
बढ़ते अपराध के खिलाफ आयोजित मानव श्रृंखाल में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जफर इस्लाम व अन्य।
  • बाबूलाल का राज्य सरकार पर हमला, लगाए गंभीर आरोप

भाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी शनिवार को राज्य सरकार पर जमकर बरसे। बोले- हेमंत सरकार अपराधियों की ढाल बन चुकी है। राज्य में आदिवासी असुरक्षित हैं, उनकी बहू-बेटियों के साथ दुष्कर्म की घटनाएं हो रही हैं।

उनकी हत्याएं हो रही हैं। आरोपियों को पकड़ने की जगह सरकार में शामिल लोग उन्हें बचा रहे हैं। भ्रष्टाचार में आकंठ डूबी हेमंत सरकार में खनिज संपदा की लूट मची है। ट्रांसफर-पोस्टिंग उद्योग बन गया है। असंवैधानिक नियोजन नीति बनाकर राज्य के युवाओं को ठगा जा रहा है।

वे शनिवार को राज्य में बढ़ते अपराध के खिलाफ भाजपा द्वारा आयोजित मानव श्रृंखला को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम की समाप्ति पर नामकुम बीडीओ को दिए गए ज्ञापन में राज्यपाल को संबोधित करते हुए कहा गया है कि वे राज्य के संवैधानिक प्रमुख हैं।

विपक्ष की आवाज को सुनते हुए वे राज्यहित और जनहित में अवश्य पहल करें। प्रदेश महामंत्री प्रदीप वर्मा ने कहा कि रूपा तिर्की की हत्या पर सरकार लीपापोती कर रही है। झामुमो नेताओं के आतंक से संथालपरगना में जंगल राज की स्थिति है।

प्रदेश महामंत्री आदित्य साहू ने कहा कि रोजगार मांगने वाले नौजवानों पर लाठी बरसाई जा रही है। नेता प्रतिपक्ष के रूप में इन्हें आदिवासी मंजूर नहीं, इसलिए ये बाबूलाल मरांडी को प्रतिपक्ष के नेता का दर्जा नहीं दे रहे हैं। सरकार के संरक्षण में बड़े पैमाने पर धर्मांतरण हो रहा है।

सीपी बोले, सीएम नहीं जागे तो उनके राजनीतिक जीवन का अंत

मोरहाबादी में आयोजित कार्यक्रम में विधायक सीपी सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री जागें, नहीं तो यह उनके राजनीतिक जीवन का अंतिम पड़ाव होगा। यही रवैया रहा तो, झारखंड की जनता आने वाले दिनों में झामुमो-कांग्रेस को बाहर का रास्ता दिखाएगी।

रांची महानगर के तत्वावधान में हुई इस कार्यक्रम की अध्यक्षता राजू सिंह, संचालन वरुण साहू और धन्यवाद ज्ञापन बलराम सिंह ने किया। मौके पर शिवपूजन पाठक, प्रदीप सिन्हा, बसंत दास, सूर्यमणि सिंह, कमाल खान, लक्ष्मीचंद्र दीक्षित, परमा सिंह, कृपाशंकर सिंह, नीरज सिंह, जितेंद्र वर्मा, विश्वजीत सिंह आदि सैकड़ों कार्यकर्ता थे।

आशा लकड़ा ने कहा, आज सबसे ज्यादा आदिवासी बदहाल

मेयर आशा लाकड़ा ने कहा कि हेमंत राज में आदिवासी समाज सबसे बदहाल है। इस सरकार में अब तक लगभग 27 सौ से ज्यादा आदिवासी महिलाओं के साथ रेप हुआ है। आदिवासियों की जमीन छीनी जा रही है। डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने कहा कि बदले की राजनीति से प्रेरित होकर राज्य सरकार भाजपा कार्यकर्ताओं पर मुकदमे करवा रही है। ऐसा लग रहा है कि वर्तमान सरकार विरोधियों पर मुकदमा कराने में लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करेगी।

खबरें और भी हैं...