पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • The Agreement Between The Mayor And Municipal Commissioner In The Agreement With Mr. Publication Caught Up, Municipal Commissioner Did Not Reach The Meeting

विवाद:श्री पब्लिकेशन के साथ एग्रीमेंट में मेयर-नगर आयुक्त के बीच का विवाद तूल पकड़ा, बैठक में नहीं पहुंचे नगर आयुक्त

रांची14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मेयर: श्री पब्लिकेशन को नहीं करने देंगे टैक्स कलेक्शन
  • नगर आयुक्त: कंपनी 19 अक्टूबर से करेगी काम
  • मेयर ने दूसरे दिन भी बुलाई बैठक, लेकिन नहीं पहुंचे नगर आयुक्त

रांची के 2 लाख घराें से हाेल्डिंग टैक्स वसूलने के लिए चयनित एजेंसी श्री पब्लिकेशन मामले में मेयर-नगर आयुक्त के बीच का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। एग्रीमेंट पर गहराए विवाद काे दूर करने के लिए मेयर आशा लकड़ा ने शुक्रवार काे दूसरे दिन भी बैठक बुलाई। मेयर 11.10 में कार्यालय पहुंच गईं और करीब 1 घंटे तक नगर आयुक्त का इंतजार करती रहीं, लेकिन वे नहीं पहुंचे। उप नगर आयुक्त जब मेयर के पास पहुंचे तो उन्होंने उनसे बात करने से इंकार कर दिया। इसके बाद नाराज हाेकर कार्यालय से निकल गईं। फिर एक घंटे बाद कार्यालय आकर पत्रकारों से बात की।

उन्होंने नगर आयुक्त के रवैये काे गैर जिम्मेदाराना बताते हुए कहा कि वे कितना भी भाग लें इस मामले पर नहीं छाेड़ेंगे। गलत कंपनी काे किसी भी हाल में काम नहीं करने देंगे। जबकि नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने दाे टूक कहा, जब मामला हाईकोर्ट में है ताे बैठक बुलाकर काेई भी टिप्पणी नहीं की जा सकती। निगम ने काेई टेंडर नहीं किया है। नगर विकास विभाग के निर्देश पर कंपनी के साथ एग्रीमेंट किया गया है। 19 अक्टूबर से कंपनी हाेल्डिंग नंबर और ट्रेड लाइसेंस बनाने का काम करेगी।

फर्जी कागजात के आधार पर श्री पब्लिकेशन काे चुना गया
मेयर आशा लकड़ा ने कहा कि टेंडर में फाॅर्म टेक 5 देना था, जिसमें कंपनी के कर्मचारियों से जुड़े दस्तावेज शामिल होते हैं। कंपनी ने इसमें फर्जीवाड़ा किया है। फर्जी कागजात के आधार पर सूडा ने श्री पब्लिकेशन काे करीब 400 नंबर देकर एल वन बनाया। इसके बाद निगम के पास एग्रीमेंट करने के लिए भेज दिया। जब सूडा काे सारे काम करने हैं ताे निगम काे भंग कर देना चाहिए। ऐसे में नगर निगम का क्या काम है। वहीं, नगर आयुक्त काे एग्रीमेंट करने से पहले कंपनी के कागजात की जांच करनी चाहिए थी, लेकिन उन्होंने बिना कागजात देखे एग्रीमेंट किया। जब इस संबंध में बैठक बुलाई तो इससे भी नगर आयुक्त भाग रहे हैं। इसलिए वे भी उतना ही दाेषी हैं, जितना सूडा के अधिकारी।

आरोप... ये कागजात दिए गए गलत

  • चार्टर्ड अकाउंटेंट राहुल जैन का बायोडेटा जमा किया गया है। उन्होंने घोषणा पत्र के माध्यम से कहा है कि अपना सीवी सिर्फ निविदा में भाग लेने के लिए श्री पब्लिकेशन एंड स्टेशनर्स को दे रहे हैं। इसके आधार पर श्री पब्लिकेशन को 200 नंबर मिले।
  • अकाउंटेंट के पद पर सर्वेयर शैलेंद्र का बायोडेटा जमा किया गया है। इसकी जांच किए बिना 100 नंबर दिया गया।
  • वेब डिजाइनर के पद पर मनीष कुमार का बायोडेटा जमा किया गया। जबकि मनीष कुमार की डिग्री मास्टर इन कंप्यूटर मैनेजमेंट की है।
  • सिस्टम आईटी मैनेजर के पद पर राकेश कुमार का बायोडेटा जमा किया गया। उसकी शैक्षणिक योग्यता मास्टर इन कंप्यूटर डिप्लोमा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी अनुभवी तथा धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति से मुलाकात आपकी विचारधारा में भी सकारात्मक परिवर्तन लाएगी। तथा जीवन से जुड़े प्रत्येक कार्य को करने का बेहतरीन नजरिया प्राप्त होगा। आर्थिक स्थिति म...

और पढ़ें