पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • The Farmers Of Garhwa Have Not Received Water Yet, 3 Years Ago The Prime Minister Laid The Foundation Stone Of Mandal Dam

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बदहाली:गढ़वा के किसानों को अब तक नहीं मिला पानी, 3 साल पहले प्रधानमंत्री ने किया था मंडल डैम का शिलान्यास

गढ़वाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंडल डैम की तस्वीर।
  • 25 साल पहले नक्सलियों ने कर दी थी इंजीनियर की हत्या, तब से बंद पड़ा है डैम का काम, बिहार और झारखंड के किसानों काे मिलना था पानी

(सियाराम शरण वर्मा) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वर्ष 2017 में शिलान्यास करने के बाद भी मंडल डैम का कार्य आगे नहीं बढ़ सका है। यह इस क्षेत्र के लोगों के लिए दुर्भाग्य का विषय है। आज से करीब 3 वर्ष पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेदिनीनगर से ऑनलाइन मंडल डैम का पुन: शिलान्यास किया था। तब यह उम्मीद जगी थी कि आने वाले कुछ समय में यह डैम बनकर पूरा हो जाएगा और इसका लाभ झारखंड व बिहार के लोगों को मिलेगा।

लेकिन प्रधानमंत्री के शिलान्यास के बाद भी यह योजना भी केवल चुनावी स्टंट साबित हुआ। बरवाडीह के मंडल गांव में वर्षो से बंद पड़े मंडल डैम परियोजना को पुन: चालू कराने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर जल आयोग की केंद्रीय टीम और झारखंड व बिहार के कई वरीय अधिकारियों ने दौरा किया था। बाद संकेत मिले थे कि मंडल डैम परियोजना अब शीघ्र शुरू हो सकता है।

1970 में लातेहार जिले के मंडल गांव में की गई थी डैम की शुरुआत, 90 प्रतिशत काम लगभग पूरे हैं, अब अनदेखी का शिकार

मंडल डैम की शुरुआत 1970 ई में की गई थी। यह परियोजना लातेहार जिले के मंडल गांव में स्थित है। मंडल डैम से पनबिजली उत्पादन होना था। इसके लिए 90 प्रतिशत कार्य लगभग पूर्ण हो गए थे। अचानक केंद्र सरकार द्वारा 1993 ई में इस परियोजना पर रोक लगा दी गई। जिसके कारण यह परियोजना 27 वर्षो से अधर में है।

इस परियोजना के चालू हो जाने से बिजली उत्पादन भी होता और झारखंड की बिजली क्षमता बढ़ती। वहीं झारखंड व बिहार की एक लाख 20 हजार हेक्टेयर भूमि की पटवन होती। इसमें एक लाख हेक्टेयर भूमि की पटवन सिर्फ बिहार की भूमि की होगी।

नक्सलियों के डर से बंद पड़ा है मंडल डैम का काम

बिहार-झारखंड में हरितक्रांति लाने के उद्देश्य से चालू हुए मंडल डैम परियोजना इंजीनियर की हत्या के बाद बंद हो गया था। 25 वर्ष पूर्व नक्सलियों द्वारा मंडल डैम के इंजीनियर की हत्या कर दी गई थी। इसके बाद से मंडल डैम परियोजना का कार्य बंद हो गया था। वर्तमान में भी नक्सलियों के भय के कारण मंडल डैम बंद ही पड़ा है।

सभी प्रक्रिया पूरी सांसद
इस संबंध में पलामू के सांसद वीडी राम ने कहा कि मंडल डैम निर्माण कार्य की अन्य सारी प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है। 2015 में सांसदों ने किया था निरीक्षण : वर्ष 2015 के 13 जुलाई को मंडल डैम को चालू करने के लिए बिहार व झारखंड के सांसदों की टीम बरवाडीह में निरीक्षण किया था।

जिसमें झारखंड के पलामू के सांसद वीडी राम, चतरा सांसद सुनील सिंह व मनिका विधायक हरिकृष्ण सिंह, वही बिहार के सांसदों में जहानाबाद सांसद हरि मांझी, गया सांसद अरुण कुमार, औरंगाबाद सांसद सुशील कुमार सिंह व काराकट सांसद उपेंद्र कुशवाहा के नाम शामिल थे। इस दौरान सांसदों के साथ-साथ इंजीनियरों की टीम भी मंडल पहुंची थी। साथ ही मंडल डैम चालू करवाने की बात कही गई थी।

डैम चालू होने से राज्य में आएंगी हरित क्रांति : मंडल डैम के शुरू हो जाने से झारखंड व बिहार के हजारों एकड़ से भी अधिक जमीन सिंचित होगी। इससे बिहार व झारखंड में हरितक्रांति आ जाएगी। मंडल डैम परियोजना चालू होने के बाद यहां के किसानों को अपने खेतों के पटवन में आ रही परेशानी दूर होगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें