• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • The Friends Of The Drowning Youth Remained Mute Spectators In Dhurva Dam, The Unknown Youth Saved His Life By Playing On

शाबाश! सिकंदर, बहादुरी देख किया सम्मानित:धुर्वा डैम में डूब रहे युवक के दोस्त मूकदर्शक बने रहे, अनजान युवक ने अपनी जान पर खेलकर बचाया

रांची8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सिकंदर को सम्मनित करते थाना प्रभारी। - Dainik Bhaskar
सिकंदर को सम्मनित करते थाना प्रभारी।

धुर्वा डैम में शुक्रवार दोपहर 1 बजे के करीब डेविड तिर्की (30) नाम का एक युवक अचानक गिरकर डूबने लगा। डैम में अत्यधिक पानी होने के कारण उसे डूबता देखकर भी किसी की उसे बचाने की हिम्मत नहीं पा रही थी। इसी बीच वहां खड़ा सिकंदर कुमार नाम का युवक उसे बचाने के लिए डैम में कूद गया। कुछ ही देर में सिकंदर ने उसे पानी से निकाल लिया और तुरंत अस्पताल ले जाकर भर्ती करा दिया।

अस्पताल में उपचार के बाद डेविड खतरे से बाहर है। डेविड कोकर की ढेला टोली का रहने वाला है। वह डैम घूमने गया था। डैम में गुंबद के पास वह अपने कुछ साथियों संग रेलिंग पर बैठा हुआ था। अचानक उसका संतुलन बिगड़ा और वह डैम में जा गिरा। डैम में कूदकर युवक की जान बचाने वाले धुर्वा निवासी सिकंदर को धुर्वा थाना प्रभारी प्रवीण कुमार ने गुलदस्ता देकर सम्मानित किया।

मनाही के बावजूद गुंबद तक जाने देता है केयर टेकर
डैम में जहां गुंबद है, वहां काफी गहराई है। इस कारण पानी की सप्लाई लाइन वहीं गुंबद के पास से निकली है। हालांकि, गुंबद के पास तक जाने की मनाही है। गेट में ताला लगा रहता है। इसके बावजूद वहां का केयर टेकर ताला खोलकर लोगों को खतरे के बीच जाने देता है। लोगों का कहना है कि पैसे लेने के बाद केयर टेकर गेट का ताला खोलकर गुंबद तक जाने देता है।

खबरें और भी हैं...