रिम्स में शरीर से अंग निकालने का आरोप:परिवार को दिखाया पूरा शरीर, कहीं चीरा नहीं, पर चोट देख हत्या का आरोप

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
रिम्स परिसर में परिजनों ने किया हंगामा, बरियातू थाने की पुलिस मौके पर पहुंची, समझा बुझाकर शांत कराया। - Dainik Bhaskar
रिम्स परिसर में परिजनों ने किया हंगामा, बरियातू थाने की पुलिस मौके पर पहुंची, समझा बुझाकर शांत कराया।
  • रिम्स में भर्ती मरीज के वार्ड से गायब हाेने के 5 दिनाें बाद मिला शव, सीसीटीवी फुटेज में मरीज सही सलामत वार्ड से निकलते दिखा, परिजनाें ने हत्या करने का आराेप लगाकर किया हंगामा

रिम्स के न्यूरो सर्जरी विभाग में भर्ती मरीज नवीन कुमार साेनी के गायब हाेने के 5 दिनाें बाद शव मिलने की सूचना पर परिजन साेमवार काे अस्पताल पहुंचे और जमकर हंगामा किया। हंगामा किए जाने की सूचना के बाद बरियातू थाने की पुलिस माैके पर पहुंची और आक्राेशित लाेगाें काे समझा-बुझाकर शांत कराया। पुलिस ने मृतक के परिजनाें काे बताया कि अगर उन्हें किसी प्रकार का काेई संदेह है ताे वे लिखित शिकायत करें।

पुलिस अपने स्तर से पूरे मामले की जांच कर दाेषी पाए गए लाेगाें के खिलाफ कार्रवाई करेगी। हंगामा कर रहे परिजनाें का आराेप था कि मरीज की हत्या की गई है। हालांकि हत्या क्याें और किसने की है, इस बात पर कुछ भी बाेलने से इंकार कर रहे थे।

मृतक का साला संताेष प्रसाद का कहना था कि अस्पताल में लगे सीसीटीवी में मरीज पूरी तरह से सही-सलामत स्थिति में बाहर निकलते हुए दिख रहा है। ऐसे में फिर अचानक कैसे उसकी माैत हाे सकती है। मृतक का साला ने बताया कि अगर इलाज के दाैरान माैत हुई है ताे फिर उसके सीने और दाहिने पैर में चाेट के निशान कैसे मिले। लिखित शिकायत की बात कहे जाने के बाद आक्राेशित परिजन शांत हुए और शव काे पाेस्टमार्टम कराने के लिए तैयार हुए। हालांकि, पाेस्टमार्टम के बाद परिजन शव लेकर गया जिला स्थित डाेभी चले गए।

कभी अंग गायब करने, तो कभी स्टिच लगा होने की बात कहते रहे

नवीन कुमार साेनी के परिजनाें काे पहले माॅर्चरी में बुलाकर शव दिखाया गया, ताे अंग गायब करने का आराेप लगाते हुए हंगामा करने लगे। हालांकि, साेमवार की सुबह पुलिस ने जब परिजनाें काे मॉर्चरी में ले जाकर मृतक का पूरा शरीर दिखाया, ताे कहीं भी कटे का निशान नहीं दिखा। इसके बाद परिजन शांत हुए। हालांकि थाेड़ी ही देर बाद सीना, पैर और माथे में पीछे की तरफ लगे स्टिच की बात कहते हुए हत्या की बात कह हंगामा करने लगे। पुलिस ने शांत कराया और लिखित शिकायत करने की बात कही।

जेवर बनाने का कारीगर था नवीन, ज्यादा शराब का करता था सेवन

संताेष प्रसाद ने बताया कि नवीन 5 भाइयाें में चौथे नंबर पर था। नवीन का एक बेटा और एक बेटी है। वह जेवर बनाने का कारीगर था। अचानक घर में गिर जाने के बाद उसके सिर में चाेट लगी थी, जिसके बाद रिम्स में भर्ती कराया गया था। हालांकि, बरियातू थानेदार सपन महथा ने बताया कि मृतक अत्यधिक शराब का सेवन करता था। वह खुद से निकलकर वार्ड से कहीं चला गया था। इस दाैरान पीसीआर ने उसे सड़क पर से लावारिश हालत में पकड़कर रिम्स लाया था और इलाज के लिए भर्ती कराया था।

खबरें और भी हैं...