पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • This Kind Of Checking Checking Of A Vehicle At Four Places On The Same Route At 3 Km, Ordinary People Are Getting Scared After Seeing The Police On The Road At Night.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जांच जरूरी पर तरीका गलत:ये कैसी चेकिंग- एक ही रूट पर 3 किमी में एक वाहन की चार जगहों पर जांच, रात में पुलिस को सड़क पर देखकर आम लोग भयभीत हो रहे

रांची3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रियलिटी चेक- पुलिस की इस तरह की जांच से भयमुक्त नहीं, भयभीत हैं लोग
  • स्कूटी पर बच्चे को लेकर जा रही महिला को भी पुलिस ने रोका और डिक्की जांची
  • अल्बर्ट एक्का चौक के पास परिवार के साथ जा रहे लोगों को उताकर जांच की

अपराध नियंत्रण के नाम पर रांची में पिछले 25 दिनों से रात में वाहनों की जांच हो रही है। हालांकि, ये जांच पांच जनवरी को तब शुरू हुई, जब हरमू रोड में मुख्यमंत्री के काफिले को कुछ उपद्रवियों द्वारा रोकने की कोशिश की गई और कुछ लोग पुलिस से उलझ गए। जांच अभियान में दो पहिया या चार पहिया वाहन हों, सभी को रोककर पुलिस जांच कर रही है। लेकिन, रात में पुलिस को सड़क पर देखकर आम लोग भयमुक्त होने के बजाय भयभीत हो रहे हैं। खासकर उन लोगों को जो रात में चार पहिया वाहन से अपने परिवार को लेकर होटल से घर लौट रहे हैं।

एक ही रूट में मात्र तीन किमी की दूरी में चार जगहों पर हरेक वाहन की जांच हो रही है। जबकि, एक रूट में एक जगह वाहन की चेकिंग हो गई तो अगले चेक पोस्ट पर उसकी जांच नहीं होनी चाहिए। जिन रूटों में ऐसा हो रहा है, वहांं सही तरीके से व्यवस्था नहीं की गई है। चेक पोस्ट पर पुलिस वालों को वायरलेस सेट नहीं दिया गया है, जो अगले पोस्ट को यह बता सके कि फलां नंबर की गाड़ी जा रही है, जिसकी जांच हो चुकी है, उसे आगे जाने दें। इधर, वाहन जांच से परेशान लोगों का कहना है कि पुलिस उन 36 लोगों को तो अब तक गिरफ्तार नहीं कर सकी, जिनके नाम 4 जनवरी को हुए उपद्रव की घटना में है, तो अपराधी कहां से पकड़ में आएंगे।

रातू रोड से अरगोड़ा चौक तक चार जगहों पर चेक प्वाइंट बनाए गए हैं। न्यू मार्केट चौक पर वाहनों की जांच हुई, फिर वाहन हरमू रोड की ओर मुड़ा तो शनि मंदिर के पास जांच की गई है। इसके बाद 500 मीटर आगे बढ़ते ही किशोरगंज के पास रोक कर चालक से पूछताछ की गई। उसी वाहन को आगे सहजानंद चौक पर रोककर जांच हुई। यहां से दो किमी आगे बढ़ने पर अरगोड़ा चौक पर रोककर जांच की गई। इस प्रकार एक ही वाहन की चार जगहों पर जांच हो रही है। हर जगह पुलिसवाले एक ही तरह के सवाल पूछ रहे हैं। तस्वीरें ले रहे हैं, जिससे लोग भयमुक्त होने की जगह परेशान हो रहे हैं। अरगोड़ा चौक पर जांच करने वाले पुलिस कर्मियों की संवेदना भी खत्म हो चुकी है। यहां छह माह के बच्चे को लेकर स्कूटी से आ रहे दंपती को रोका गया। सिर्फ इसलिए क्योंकि स्कूटी चला रहे चालक इशारा मिलने पर रुकने की जगह हार्न बजा आगे बढ़ने की कोशिश की।

पहले इंटेलिजेंस फेल, सीएम के काफिले को रोकने के प्रयास का अंदाजा नहीं लगा पाई पुलिस, जांच के नाम पर लोगों को प्रताड़ना

  • चार जनवरी को हरमू रोड में सीएम के काफिले को रोकने के प्रयास के बाद हुए हंगामे के बाद से शहर में शुरू हुआ है रात में चेकिंग अभियान, जिससे भयमुक्त न होकर भयभीत हो रहे हैं लोग।
  • हरमू रोड में हुई घटना के बाद 72 के विरुद्ध दर्ज की गई थी नामजद प्राथमिकी, 36 लोगों को गिरफ्तार नहीं कर सकी पुलिस, अभियान में अब तक एक भी न अपराधी पकड़ाया और न हथियार।

सिस्टम ऐसा बने कि दोबारा जांच के लिए न रुकना पड़े

रांची पुलिस की जांच सही लेकिन मैकेनिज्म सही नहीं
पुलिस रात में जांच अभियान चला रही है, ये अच्छी बात है। लेकिन, पुलिस का मैकेनिज्म सही नहीं है। कई रूट में आम लोगों को रोककर तीन से चार बार जांच की जा रही है। जांच का अपना मैकेनिज्म ठीक करना चाहिए, ताकि एक व्यक्ति एक ही जगह जांच नहीं करानी पड़े।

-प्रवीण जैन, चैंबर अध्यक्ष

चौक-चौराहों पर जांच के नाम पर बदसलूकी हो रही है

चौक-चौराहे पर बैरिकेट्स कर जांच अभियान चलाने से क्राइम कंट्रोल नहीं होगा। पति-पत्नी बच्चों को लेकर जाने वालों से बदसलूकी हो रही है। पुलिस को देखकर लोगों के मन में डर नहीं भरोसा होना चाहिए कि हमारी सुरक्षा के लिए पुलिस तैनात है।

-सुनील सिंह चौहान, प्रवक्ता, रांची गुड्स ट्रांसपोर्ट एसो.

परिवार के साथ जा रहे लोगों को बार-बार न रोके पुलिस

अपराध पर रोक लगाने के लिए जांच अभियान जरूरी है। जो लोग अपने परिवार के साथ घर लौटते हैं या किसी इमरजेंसी में आना-जाना करते हैं, तो पुलिस इन्हें बार-बार न रोके। पुलिस को ऐसी व्यवस्था बनाना चाहिए कि पारिवारिक लोग परेशान ना हो।

-प्रवीण लोहिया, पूर्व अध्यक्ष, चैंबर विधि व्यवस्था कमेटी

सीधी बात... सुरेंद्र कुमार झा, एसएसपी रांची

व्यक्ति नहीं, वाहन के नंबर प्लेट की ली जाती है तस्वीर

तीन किलाेमीटर के रास्ते में एक ही वाहन की हर चाैराहे पर जांच क्यों हो रही है?
- एक प्वाइंट से दूसरे चेकिंग प्वाइंट में कई जगहाें पर गली-माेहल्लाें में आने-जाने के लिए रास्ते हैं। ऐसे में काेई आपराधिक किस्म का व्यक्ति एक से दूसरी जगह तक आने-जाने के दाैरान पकड़ में आ सके, इसके लिए सभी जगह जांच की जा रही है।

महिलाएं और बच्चे सवार वाहन की भी जांच क्यों हो रही है, यह कितना सही है?

- पुलिस पदाधिकारी काे बच्चे व महिलाएं सवार वाहन काे देखने के बाद जाने का आदेश दिया गया है। वैसे वाहन जिस पर महिलाएं व बच्चे सवार हैं और पुलिस काे उसमें बैठा काेई व्यक्ति संदिग्ध लग रहा है ताे उसकी जांच की जा सकती है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें