पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Tolerance Ends In Corona Period There Is Increasing Clash Between Policemen And Common People, Three Cases In 20 Days, FIR In All

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना कहर:कोरोना काल में सहनशीलता खत्म- पुलिस वालों से आम लोगों की बढ़ रही है झड़प, 20 दिन में तीन मामले, सभी में प्राथमिकी

रांचीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ट्रैफिक पुलिस से ज्यादा हो रही है झड़प की घटना, आम लोगों के रोष का भी हो रहे शिकार

कोरोना काल में लोग अपनी सहनशीलता खोते जा रहे है। नतीजा पुलिस वालों से लोग न सिर्फ भिड़ रहे हैं, उन्हें घायल भी कर रहे है। 20 दिनों में ऐसे तीन मामले सामने आए हैं, जिनमें आम लोगों की पुलिस से झड़प के बाद उन्हें घायल कर दिया। दो ट्रैफिक पुलिस वालों को बाइक से धक्का मारा गया। एक को तो अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। वहीं, एक ट्रेनी दारोगा से महिला गाली-गलौज करती हुई रात में भीड़ गई और पूरे थाने में हंगामा किया। पुलिस को अंत में महिला के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करनी पड़ी। पहले भी पुलिस वालों से लोग भिड़ते थे, लेकिन मामला प्राथमिकी तक नहीं पहुंचता था। हाल के दिनों में ऐसे मामले बढ़ते जा रहे है।

3 केस से जानिए... कैसे अपने गुस्से को कंट्रोल नहीं कर पा रहे लोग

केस-1

6 अक्टूबर को अरगोड़ा थाना परिसर में बैठकर पीएसआई राहुल सिन्हा ओडी ड्यूटी कर रहे थे। अचानक रात 10.30 बजे सुष्मिता दास नाम की महिला आई व गाली-गलौज करती हुई पूछी-कहां है थाना प्रभारी। जब बताया गया कि वे पेट्रोलिंग में हैं, तब वह उन्हें चोट पहुंचाने के लिए लपकी। साथ ही, फंसाने की धमकी दी।

केस-2

18 अक्टूबर शाम 6.15 बजे तीन बाइक सवार युवकों को राजेंद्र चौक पर तैनात आरक्षी शंभु सिंह ने रुकने का इशारा किया तो वे रुकने की जगह उन्हें टक्कर मार कर गिरा दिए। फिर बाइक छोड़कर भाग निकले। घायल आरक्षी को गुरुनानक अस्पताल में भर्ती कराया गया। तीनों पर शंभु ने डोरंडा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है।

केस-3

कोतवाली थाना क्षेत्र, जैन मंदिर अपर बाजार के पास ट्रैफिक हवलदार राजकुमार यादव को 16 अक्टूबर को मारवाड़ी महिला कॉलेज की ओर से बिना हेलमेट आ रहे एक बाइक युवक का जब वे फाइन काटने लगे तो वह उनसे उलझ गया। फिर उन पर बाइक चढ़ा दिया। आरोपी सद्दाम उर्फ रोहन अली को उन्होंने पकड़ कर कोतवाली थाने को सौंपा व मामला दर्ज कराया।

बिना छुट्‌टी काम करने से पुलिस वालों में चिड़चिड़ापन

पुलिस वाले सप्ताह में सातों दिन काम कर रहे हैं। इस कारण इनमें बीपी, शुगर व हर्ट की बीमारी आम हो गई है। 70 फीसदी पुलिस वाले बीमार हो गए हैं। वहीं आम लोग कोरोना काल में घरों में रहने से चिड़चिड़े हो गए हैं। यही कारण है कि लोग एक-दूसरे की बात समझने की जगह भीड़ जा रहे हैं। आम लोगों को समझदारी से काम लेना होगा, पुलिस की भी समस्या समझनी होगी। नहीं तो ऐसे मामले और बढ़ेगे।
डॉ. अजय बाखला, मनोचिकित्सक, रिम्स

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें