पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

धोखाधड़ी:अफसर के जाली हस्ताक्षर से आदिवासियों की जमीन बेची, पूर्व अफसर ने किया केस, कहा- 30 जगह जाली हस्ताक्षर

रांची14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अब इस मामले की जांच हाे तो सैकड़ाें गड़बड़ियां निकलेंगी।

एसएआर (शिड्यूल एरिया रेग्यूलेशन) काेर्ट के माध्यम से दस्तावेज की हेराफेरी कर बेेची गई राजधानी की बेशकीमती आदिवासी जमीन की अब जांच हाेगी। हाईकाेर्ट के आदेश पर इस मामले में सोमवार काे काेतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। रांची एसएआर काेर्ट के तत्कालीन एसएआर अफसर मतियश विजय टोप्पो ने प्राथमिकी में कहा है कि उन्होंने अपने कार्यकाल (16 जनवरी 2013 से 28 नवंबर 2013) के दौरान 124 रिकार्ड की जांच की, जिसमें 68 दस्तावेज गलत पाए गए।

30 जगहाें पर उनके जाली हस्ताक्षर थे। यह एक गंभीर मामला है, इसकी जांच एसआइटी से कराई जाए। इधर, मतियश ने बताया कि वे इंसाफ की लड़ाई लड़ रहे हैं। मुझे गलत तरीके से फंसाया जा रहा था। अब इस मामले की जांच हाे तो सैकड़ाें गड़बड़ियां निकलेंगी।

एसएआर कोर्ट में हुई कागजों में गड़बड़ी

वर्ष 2015-16 में जब एसएआर कोर्ट रांची में मतियश थे तब यह मामला सामने आया था कि अभिलेखों में जालसाजी कर आदिवासी जमीन का कंपनसेशन किया गया है। इसके बाद सरकार ने मामले की जांच के आदेश दिए थे। सरकार के आदेश के बाद तत्कालीन एसएआर पदाधिकारी के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई भी शुरू की गई थी। मामला जब गंभीर हो गया तब सरकार ने एसएआर कोर्ट में कंपनसेशन के मामले पर अस्थाई रूप से रोक लगा दी थी। जिसके बाद से ही एसएआर कोर्ट में आदिवासी जमीन का कंपनसेशन बंद है। अधिवक्ता अमित सिन्हा ने बताया कि इस मामले में मतियश काे मोहरा बनाया गया, जबकि इन्होंने गड़बड़ी सामने लाई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें