'आरपीएन सिंह के जाने से हर सच्चा कांग्रेसी खुश':कांग्रेस विधायक अंबा प्रसाद बोलीं- झारखंड सरकार को अपदस्थ कराने की कर रहे थे कोशिश

रांची4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इरफान अंसारी ने कहा कि 3 साल से आरपीएन सिंह की सच्चाई सामने लाना चाह रहा था। - Dainik Bhaskar
इरफान अंसारी ने कहा कि 3 साल से आरपीएन सिंह की सच्चाई सामने लाना चाह रहा था।

झारखंड कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह के कांग्रेस से BJP में शामिल होने के बाद कांग्रेस की महिला विधायक ने गंभीर आरोप लगाए हैं। बड़कागांव से विधायक अंबा प्रसाद ने सोशल मीडिया पर लिखा-" पिछले एक साल से ज्यादा से ‌BJP के साथ सांठ-गांठ कर आरपीएन सिंह। झारखंड की कांग्रेस-JMM सरकार को अपदस्थ कराने की कोशिश कर रहे थे।'

अंबा प्रसाद ने लिखा है कि पार्टी नेतृत्व को लगातार इस बारे में आगाह भी किया गया था। इनके BJP में जाने से झारखंड का हर सच्चा कांग्रेसी खुश है। हालांकि कांग्रेस पार्टी की तरफ से इस संबंध में कोई भी ऑफिशियल बयान जारी नहीं किया गया है और न ही किसी अन्य विधायक ने ऐसी बात कही है।

अंबा प्रसाद ने लिखा है कि पार्टी नेतृत्व को लगातार इस बारे में आगाह भी किया गया था।
अंबा प्रसाद ने लिखा है कि पार्टी नेतृत्व को लगातार इस बारे में आगाह भी किया गया था।

3 साल से आलाकमान को इनकी सच्चाई बताना चाह रहा था- इरफान
जामताड़ा विधायक इरफान अंसारी ने बताया कि मिशन के तहत झारखंड आए थे कि राज्य से कांग्रेस को खत्म कर दें। वे शुरू से भाजपा माइंडेड थे। ये कांग्रेस पार्टी के साथ बेइमानी किए हैं। ये BJP के साथ भी बेइमानी कर रहे हैं। सोनिया गांधी और राहुल गांधी से इनकी सच्चाई बताने का वक्त मांग रहे थे लेकिन वक्त नहीं मिल रहा था।

इरफान अंसारी ने कहा- आरपीएन सिंह टिकट और मंत्री पद को बेचा।
इरफान अंसारी ने कहा- आरपीएन सिंह टिकट और मंत्री पद को बेचा।

पैसे लेकर लोकसभा और मंत्री का पद बेचा
झारखंड में लोकसभा का टिकट बेच दिए। पैसा लेकर टिकट बेच दिए। इतना ही नहीं पैसा लेकर इन्होंने मिनिस्टर का पद भी बेच दिया। आज जनता का सच्चाई सामने आ गया है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस में इनके जैसे भाजपामाइंडेड लोग पार्टी को बर्बाद कर रहे हैं।

राजेश ठाकुर ने कहा- उनके जाने से संगठन-सरकार पर कोई असर नहीं पड़ेगा।
राजेश ठाकुर ने कहा- उनके जाने से संगठन-सरकार पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

आरपीएन सिंह के जाने से संगठन-सरकार पर कोई असर नहीं- राजेश ठाकुर
प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि यह उनका व्यक्तिगत और गलत निर्णय है। उनके कांग्रेस में जाने से प्रदेश कांग्रेस पर कोई असर नहीं पड़ेगा। आलाकमान के निर्णय को वे झारखंड में लागू कराने का कार्य करते थे। राजेश ठाकुर ने कहा कि पार्टी ने उन्हें बहुत मान-सम्मान दिया है इसके बाद भी इस तरह का निर्णय लेना गलत है।